Editor

Editor

मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर खान इन दिनों गर्लस गैंग के साथ फिल्म 'वीरे दी वेडिंग' के प्रमोशन में बिजी हैं, लेकिन जब भी उनको टाइम मिलता है वह अपने परिवार के साथ समय बिताते नजर आती हैं। हाल ही में करीना को महबूब स्टूडियो में बेटे तैमूर और पति सैफ के साथ देखा गया।दरअसल, करीना अपने एक शूट के लिए सोनम कपूर की बहन और फिल्म की को-प्रोड्यूसर रिया कपूर के साथ पहुंची थीं। वहीं नन्हें तैमूर भी मम्मी करीना से मिलने महबूब स्टूडियो में पहुंच गए।मां को देखते ही तैमूर उनकी गोद में आने को मचल उठे। वहीं करीना भी अपने सारे काम भूल लाडले के साथ मस्ती करती हुई नजर आईं।तस्वीरों में करीना ग्रीन कलर की लॉन्ग ड्रैस और खुले बालों में बेहद खूबसूरत लग रही हैं।वहीं नन्हें तैमूर भी ब्लू चैक के साथ स्किन कलर की शॉर्टस पहने हुए हर बार की तरह काफी क्यूट लग रहे हैं। तस्वीरों में करीना और तैमूर का प्यार देखकर आप भी दीवाने हो जाएंगे। बता दें कि फिल्मों की बात करें तो करीना 'वीरे दी वेडिंग' को अपने गर्लस गैंग के साथ जमकर प्रमोट कर रही हैं।अक्सर प्रमोशन में वह अक दूसरे के साथ काफी मस्ती करती हुई नजर आती हैं। अब देखना बाकि है फिल्म फैंस के दिलों में क्या खास जगह बना पाती है।

बीते कई दिनों से संजय दत्त की बॉयोपिक ‘संजू‘ काफी चर्चा में है। बता दें कि इस फिल्म का निर्देशन राजकुमार हिरानी कर रहे है और फिल्म में संजय दत्त की भूमिका रणबीर कपूर निभाने वाले है। फिल्म के कई पोस्टर्स के साथ-साथ टीजर को भी रिलीज कर दिया गया है। अभी तक रिलीज किए गए पोस्टर और टीजर में सिर्फ रणबीर ही नजर आए है।कल दिन में ही राजकुमार हिरानी ने फिल्म के ट्रेलर के रिलीज डेट की जानकारी देते हुए कहा कि फिल्म का ट्रेलर आगामी 30 मई को रिलीज किया जाना है। इसी के साथ राजकुमार ने ये भी कहा कि फिल्म के ट्रेलर को रिलीज करने से पहले वह हर दिन नए-नए पोस्टर रिलीज करेंगे और फिल्म के नए-नए किरदारों ने लोगों को रुबरु करवाएंगे। बता दें कि फिल्म का नया पोस्टर सामने आ चुका है।फिल्म के नए पोस्टर में रणबीर के साथ सोनम कपूर भी नजर आ रही है। इस पोस्टर में रणबीर संजय दत्त की डेब्यू फिल्म रॉकी (1981) वाले लुक नजर आ रहे है। पोस्टर के जरिए आपको संजय और टीना मुनीम की जबरदस्त केमेस्ट्री याद आ जाएगी। इस पोस्टर से साफ है कि फिल्म में संजय की लवलाइफ को बड़ी खूबसूरती से दिखाया जाएगा। वैसे आपको बता दें कि साल 2007 में आई फिल्म ‘सावरियां’ में साथ दिखने के बाद एक बार फिर से रणबीर और सोनम की जोड़ी बड़े परदे पर साथ दिखेगी।3 इडियट्स, पीके और मुन्नाभाई सीरीज की जबरदस्त फिल्में देने के बाद राजकुमार हिरानी अब संजू के जरिए संजय दत्त की जिंदगी के 6 महत्वपूर्ण स्टेज को बड़े परदे पर दिखाएंगे। इस फिल्म के बारे में बात करते हुए राजकुमार हिरानी ने कहा था कि 2 या ढ़ाई घंटे में एक 55 साल के शख्स के सफर को दिखाना आसान नहीं है। हमने कई हिस्से को छोड़ भी दिया है।बता दें कि इस फिल्म में रणबीर और सोनम के अलावा अनुष्का शर्मा, परेश रावल, मनीषा कोइराला, जिम सर्भ, बोमन ईरानी, करिश्मा तन्ना, दिया मिर्जा और विक्की कौशल महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे।रणबीर कपूर की आने वाली इन 4 फिल्मों पर बॉलीवुड ने लगाया 400 करोड़ का दांव, देखें पूरी लिस्टबात की जाए फिल्म की रिलीज डेट की तो यह फिल्म अगले महीने की 29 तारीख (29 जून) को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

पहलगामः सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने आज कहा कि जम्मू कश्मीर में सेना की ओर से रोके गए अभियान की अवधि बढ़ाई जा सकती है लेकिन आतंकवादियों की किसी भी हरकत पर तुरंत फिर से विचार करना होगा। रावत ने यह भी कहा कि पाकिस्तान अगर शांति बनाये रखना चाहता है तो उसे राज्य में आतंकियों को भेजना बंद करना चाहिए। श्रीनगर से 95 किलोमीटर दूर पहलगाम में एक कार्यक्रम में जनरल रावत ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘अगर पाकिस्तान वाकई शांति चाहता है तो हम चाहते हैं कि वह सबसे पहले अपनी तरफ से आतंकवादियों की घुसपैठ कराना बंद करे। संघर्षविराम का उल्लंघन ज्यादातर घुसपैठ को मदद करने के लिए ही किया जाता है।’’ सेना प्रमुख ने कहा कि भारत सीमा पर शांति चाहता है लेकिन पाकिस्तान ने लगातार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है जिससे जान-माल का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा , ‘‘जब ऐसी हरकत होती है तो हमें भी जवाब देना पड़ता है। हम चुप नहीं बैठक सकते। अगर संघर्षविराम का उल्लंघन होगा तो हमारी तरफ से कार्रवाई की जाएगी।’’जनरल रावत ने कहा कि शांति के लिए जरुरी है कि सीमा पार से आतंकवाद का खात्मा हो। सेना प्रमुख ने कहा कि जम्मू कश्मीर में आतंकवाद रोधी अभियान रोकने की पहल का मकसद है कि लोगों को शांति का फायदा मिले। उन्होंने कहा, ‘‘अगर शांति का यह माहौल कायम रहा तो मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि हम एनआईसीओ अभियान की शुरुआत को जारी रखने के बारे में विचार करेंगे। लेकिन, आतंकवादियों ने कोई हरकत की तो हमें इस संघर्षविराम या अभियान रोकने या एनआईसीओ पर फिर से सोचना होगा।’’

बेंगलुरुः कांग्रेस विधायक के आर रमेश को आज सर्वसम्मति से कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष का चुन लिया गया। भाजपा उम्मीदवार एस सुरेश कुमार के अपनी उम्मीदवारी वापस लेने के बाद वे निर्वाचित घोषित किए गए। मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के बहुमत साबित करने से पहले इसे कांग्रेस की बड़ी जीत के तौर पर देखा जा रहा है। भाजपा नेतृत्व से निर्देश मिलने के बाद सुरेश कुमार ने बैठक शुरु होने पर अपना नामंकन वापस ले लिया। सुरेश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘पार्टी के निर्देशानुसार, मैंने कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष पद के लिए नामंकन भरा था। अब, पार्टी में चर्चा के बाद यह महसूस किया गया कि अध्यक्ष सर्वसम्मति से चुना जाना चाहिए, जैसी कि संसदीय परंपरा रही है।’’ राज्य से पांच बार विधायक रह चुके सुरेश कुमार ने कल नामंकन दाखिल किया था। इसके साथ ही स्पष्ट हो गया था कि मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के बहुमत साबित करने से पहले भाजपा जर्द एसी- कांग्रेस गठबंधन को विधानसभा में अध्यक्ष पद के लिए चुनौती देना चाहती है। सदन की कार्यवाही शुरु होने के बाद जैसे ही अस्थायी अध्यक्ष के जी बोपैया ने इस मामले को उठाया तभी भाजपा के सुनील कुमार खड़े हो गए और उन्होंने कहा कि वह सुरेश कुमार को अध्यक्ष बनाने का अपना प्रस्ताव पेश नहीं कर रहे हैं। इस पर सुरेश कुमार ने कहा, ‘‘मैं इसे स्वीकार करता हूं।’’ इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के नेता सिद्दरमैया ने राकेश कुमार के नाम का प्रस्ताव पेश किया और उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर ने इसका अनुमोदन किया। इसके बाद सदन ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी और भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा रमेश कुमार को अध्यक्ष के आसन तक ले गए। हाल ही में हुए चुनावों में 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी भाजपा के इस कदम से स्पष्ट है कि वह अपने उम्मीदवार की जीत के लिए समर्थन नहीं जुटा पाई थी। कांग्रेस - जर्द सेी ने मिलकर 117 सदस्यों के समर्थन का दावा किया है। इनमें कांग्रेस के 78, कुमारस्वामी की जर्द सेी के 36 और बीएसपी का एक विधायक शामिल है। गठबंधन ने केपीजीपी के एक विधायक और एक निर्दलीय विधायक का समर्थन होने का दावा भी किया है। कुमारस्वामी ने स्वयं दो सीटों पर जीत दर्ज की है।

पटनाः बिहार की राजधानी पटना स्थित राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने बोधगया के महाबोधि मंदिर परिसर में हुये सिलसिलेवार बम विस्फोट मामले में आज हैदर अली समेत पांच लोगों को दोषी करार दिया।एनआईए के विशेष न्यायाधीश मनोज कुमार सिन्हा ने यहां मामले में सुनवाई के बाद आरोपित झारखंड के रांची निवासी हैदर अली, इम्तियाज अंसारी, मुजिबुल्लाह तथा छत्तीसगढ़ के रायगढ़ निवासी उमर सिद्दीकी एवं अजहरुद्दीन कुरैशी को भारतीय दंड विधान, विधि विरुद्ध क्रियाकलाप अधिनियम एवं विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की विभिन्न धाराओं में षड्यंत्र करने, आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त रहने तथा आतंकवादी गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिए धन की व्यवस्था करने का दोषी करार दिया है। अदालत ने सजके बिंदु पर सुनवाई के लिए 31 मई 2018 की तिथि निश्चित की है। आरोप के अनुसार, 07 जुलाई 2013 को बिहार के गया जिला स्थित बौद्ध धर्मावलंबियों के पवित्र तीर्थस्थल बोधगया के महाबोधि मंदिर परिसर में सिलसिलेवार बम विस्फोट हुये थे। इन बम धमाकों में कई लोग घायल हुये थे। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुये मंदिर परिसर में रखे गये कई बमों को भी निष्क्रिय किया था।बाद में मामले की जांच एनआईए को सौंप दी गई थी। एनआईए ने जांच के बाद छह लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था, जिनमें से एक आरोपी नाबालिग था जिसकी सुनवाई जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड (जेजेबी) ने करते हुये कुछ दिन पूर्व ही उसे दोषी करार दिया था। शेष अन्य पांच आरापियों की सुनवाई पटना सिविल कोर्ट स्थित विशेष अदालत में हो रही थी, जिन्हें आज दोषी करार दिया गया है।

नई दिल्ली: कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी आज बहुमत परीक्षण का सामना करेंगे। जेडीएस-कांग्रेस-बसपा गठबंधन के नेता कुमारस्वामी ने बुधवार को विपक्ष के तमाम बड़े नेताओं की मौजदूगी में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। अब उम्मीद जताई जा रही है कि राज्य में दस दिनों की राजनीतिक अस्थिरता का अंत हो जाएगा। बता दें कि कांग्रेस के 78 विधायक हैं जबकि कुमारस्वामी की जेडीएस के 36 और बसपा का एक विधायक हैं। कुमारस्वामी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी। इससे पहले बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा ने 17 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी लेकिन सदन में विश्वास मत हासिल करने से पहले ही उन्होंने इस्तीफा देने की घोषणा कर दी थी। दूसरी ओर शपथ लेने के बाद कुमारस्वामी ने विश्वास मत हासिल किये जाने के बारे में विश्वास जताया था लेकिन उन्होंने आशंका भी जताई थीं कि उनकी सरकार को गिराने के लिए भाजपा प्रयास कर सकती है। इसके अलावा बीजेपी ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए आज अपने वरिष्ठ नेता और पांच बार के विधायक एस सुरेश कुमार को उतारा है। वहीं कांग्रेस के रमेश कुमार ने सत्तारूढ़ गठबंधन के उम्मीदवार के रूप में इस पद के लिए अपना नामांकन भरा।बीजेपी उम्मीदवार ने कहा, ‘संख्या बल और कई अन्य कारकों के आधार पर हमारी पार्टी के नेताओं को विश्वास है कि मैं जीतूंगा। इसी विश्वास के साथ मैंने नामांकन दाखिल किया है।’

 

जम्मू : जम्मू में आज एक बस स्टैंड पर संदिग्ध आतंकियों के एक ग्रेनेड हमले में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए जबकि श्रीनगर में सीआरपीएफ के एक शिविर पर इसी तरह का एक दूसरा हमला किया गया। हालांकि दूसरे हमले में कोई घायल नहीं हुआ।जम्मू के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विवेक गुप्ता ने पीटीआई से कहा कि बस स्टैंड इलाके में आज रात ग्रेनेड से हमला किया गया।उन्होंने कहा कि हमले में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।गुप्ता ने कहा कि इलाके की घेराबंदी कर दी गयी और संदिग्धों को पकड़ने के लिए तलाशी शुरु कर दी गयी है। पुलिस ने बताया कि इसी बीच श्रीनगर में आज रात आतंकियों ने नवकादल के बरारीपोरा में स्थित सीआरपीएफ शिविर की तरफ एक ग्रेनेड फेंका लेकिन उसमें कोई हताहत नहीं हुआ।

बेंगलुरुः कर्नाटक में एच डी कुमारस्वामी की अगुआई वाले कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन सरकार ने आज विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर लिया। विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने विश्वास मत प्रस्ताव को ध्वनिमत से मंजूरी दे दी। इस दौरान विपक्षी भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के सदस्य सदन में मौजूद नहीं थे। भाजपा सदस्यों ने इससे पहले मुख्यमंत्री द्वारा विपक्ष के नेता पर टिप्पणी के बाद सदन से बहिर्गमन कर दिया था।कुमारस्वामी ने अपने प्रारंभिक उद्बोधन में जोर दिया कि गठबंधन सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि उनका कोई निजी एजेंडा नहीं है और उन्होंने राज्य के कल्याण एवं विकास के लिए सत्ता संभाली है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा किसी भी तरह सत्ता में आने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त का प्रयास कर रही है। उन्होंने भाजपा के ही लोकतंत्र का रक्षक होने संबंधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर उन पर आरोप लगाया कि वह (प्रधानमंत्री) चाहते हैं कि लोग यह सुनिश्चित करें कि केंद्र और राज्य में समान पार्टी की सरकारें हो।उन्होंने किसानों की कर्जमाफी को लेकर अपनी सरकार की प्रतिबद्धता जताते हुए कहा कि गठबंधन सरकार में सहयोगी कांग्रेस के साथ विचार-विमर्श के बाद इस दिशा में हर संभव प्रयास किया जायेगा। उन्होंने हालांकि कर्ज माफी के लिए कोई समय-सीमा नहीं बतायी।

नई दिल्लीः केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की बारहवीं की परीक्षा के नतीजे कल आ जायेंगे। मानव संसाधन विकास मंत्रालय में स्कूली शिक्षा सचिव अनिल स्वरुप ने आज ट्वीट कर के यह जानकारी दी है।इस वर्ष बारहवीं की परीक्षा में अर्थशास्त्र का पेपर लीक होने के कारण यह परीक्षा 25 अप्रैल को हुई थी और इस से यह आशंका व्यक्त की जा रही थी कि नतीज़े देर से आयेंगे पर सीबीएससी के अधिकारियों ने कहा था कि नतीजे समय पर ही आयेंगे।इस वर्ष सीबीएससी की परीक्षा में और भी पेपर लीक होने की ख़बरें छपी थी जिस से छात्र और अभिभावकों में काफी बेचैनी और आक्रोश भी व्यप्त हो गया था तथा विवाद भी खड़ा हो गया था।

 

 

शांतिनिकेतनः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि भारत और बांग्लादेश सहयोग एवं आपसी समझ से जुड़े दो अलग देश हैं। मोदी ने विश्व भारती विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह के दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और विश्वविद्यालय के कुलपति सबुज काली सेन के साथ मंच साझा किया।प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘भारत और बांग्लादेश दो अलग देश हैं जो सहयोग एवं आपसी सहयोग से जुड़ें हैं। चाहे उनकी संस्कृति हो या लोकनीति , दोनों देशों के लोग एक दूसरे से बहुत कुछ सीख सकते हैं।’’ मोदी ने कहा कि बांग्लादेश भवन इसका एक उदाहरण है। केंद्रीय विश्वविद्यायल के आर्चाय मोदी ने शेख हसीना के साथ बांग्लादेश भवन का उद्घाटन किया, जो ‘‘भारत और बांग्लादेश के बीच सांस्कृतिक संबंधों का प्रतीक है।’’ इस परिसर में भवन का निर्माण बांग्लोदश ने किया है।

Page 1 of 2690

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें