नई दिल्ली - आज वेलेंटाइन डे के मौके पर जहां एक तरफ कपल अपने प्यार का इजहार कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कुछ लोगों को ये इश्क का रंग रास नहीं आ रहा है। बजरंग दल और अन्य संगठन के लोग जगह-जगह इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। चेन्नई में भारत हिंदू फ्रंट वर्कर ने विरोध का एक नयाब तरीका निकाला है। वेलेंटाइन डे मौके पर संगठन के लोगों ने एक कुत्ते और गधे की शादी करवाई। इस शादी में ढोल भी बजे और दोनों को माला भी पहनाई गई।
वेलेंटाइन डे पर बजरंग दल पूरे देश में प्रेमी जोड़ियों के लिए आफत बना हुआ है। संगठन के सदस्य हर जगह सक्रिय हो गए हैं। अहमदाबाद में बजरंग दल के सदस्य साबरमती रिवरफ्रंट पर हाथों में डंडे लिए खड़े हैं और वहां से जोड़ों को डरा-धमका कर भागते हुए नजर आए। बाद में इनको पुलिस ने गिरफ्तार किया।
हैदराबाद में भी बजरंग दल के सदस्यों ने पोस्टर के साथ विरोध प्रदर्शन किया। इन पोस्टर पर बैन वेलेंटाइन डे और सेव भारत कल्चर लिखा हुआ है। सदस्यों ने विरोध प्रदर्शन में पुतले भी जलाए, साथ ही सदस्य बजरंग दल का लाल झंडा लिए हुए दिखाई दिए।
वेलेंटाइन डे को लेकर बजरंग दल ने चेतावनी भी जारी की है। एक पोस्टर जारी कर दल ने हिंदु लड़कियों को सावधान रहने के लिए कहा है। इस पोस्टर में लव जिहाद का भी जिक्र किया गया है। इस पोस्टर में एक लड़की का आधा चेहरा खुला हुआ है तो आधा बुर्के से ढका हुआ है। खुले हुए चेहरे में लड़की के माथे पर बिंदी लगी हुई है, जो हिंदू महिलाओं का प्रतीक है।
हैदराबाद में बजरंग दल के सदस्य पब और होटलों में जाकर वैलेंटाइन डे पर कोई विशेष कार्यक्रम आयोजित न करने की हिदायत दे रहे हैं। उनका कहना है कि यह देश की संस्कृति का हिस्सा नहीं है। यह दल लंबे समय से वैलेंटाइन डे के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन करता रहा है।दल के अनुसार उन्हें प्यार से कोई दिक्कत नहीं है लेकिन इसकी आड़ में होने वाली अश्लीलता से परहेज है।
भेड़ों की शादी कर किया वेलेंटाइन को सपोर्ट
जहां कुछ लोग वेलेंटाइन डे के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं वही कुछ लोग इसके सपोर्ट में भी सड़कों पर उतर आएं हैं। कर्नाटक में रक्षणा वेदिक संगठनों के सदस्यों ने भेड़ों की शादी कर इसका सपोर्ट किया। इस शादी में शहनाई बजी और धूमधाम से जश्न मनाया गया।
रक्षणा वैदिक संगठने के सदस्य वटल नागराज ने कहा कि हमें वेलेंटाइन डे का विरोध नहीं करना चाहिए, क्योंकि प्यार का कोई धर्म या जाति नहीं होती है। केंद्र सरकार को तो प्यार के लिए इस दिन छुट्टी देनी चाहिए। राज्य सरकार को जो कपल प्यार के बाद शादी करना चाहते हैं उन्हें 50 हजार से 1 लाख रुपये तक की राशि की मदद करनी चाहिए।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें