छोटे पर्दे के पॉपुलर सीरियल ‘साथ निभाना साथिया’ में अहम का किरदार निभा रहे टीवी एक्टर मोहम्मद नजिम ने सोनू निगम के बयान पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है। 17 अप्रैल यानी सोमवार को सोनू निगम के कुछ ट्वीट किए थे। जिसमें सोनू ने लिखा था, ‘मैं मुसलमान नहीं हूं लेकिन फिर भी मुझे मस्जिद की अजान की आवाज से जगना पड़ता है, ये जबरन धार्मिकता कब रुकेगी।‘ उस पर सभी जगह खूब विवाद हुआ। जिसके बाद bollywoodlife.com से बात करते हुए मोहम्मद नजिम ने अपने विचार रखे हैं। उन्होंने कहा, ‘ फर्स्ट ऑफ़ आल, मैं सभी धर्मं का रेस्पेक्ट करता हू। मेरे घर के पास चर्च भी हैं। वहां भी 6 बजे घंटियां बजती हैं, वहां मंदिर भी है। मैं मंदिर-मज्जिद के पास रहता हूं। ऐसी छोटी-छोटी चीजों को लेकर इस तरह का मुद्दा उठाने का मतलब आप पढ़े लिखे नहीं हो। सोनू निगम यह कोई छोटा नाम नहीं हैं, फिल्म इंडस्ट्री का बड़ा नाम नहीं। अगर यहाँ लोग ऐसी बातें करेंगे तो आम लोगों के लिए क्या बचेगा फिर। ये बहुत गलत चीज़ हैं। उनको ऐसा बोलना ही नहीं चाहिए।‘bollywoodlife.com से बात करते हुए मोहम्मद ने आगे कहा, जब सोनू निगम फिल्म इंडस्ट्री में आए थे तब वो एक ऐसे इंसान था जो सिर्फ रफ़ी साहब की कॉपी करता था। मोहम्मद रफ़ी तो ऐसे इंसान थे जो कभी नमाज़ नहीं छोड़ते थे। गान छोड़ देते थे लेकिन नमाज़ नहीं। अगर सोनू निगम रफ़ी साहब को अपना गुरु मानते हैं तो ऐसी चीजों का मतलब he’s not a kid yaar। वैसे ये पहले बार नहीं हैं जब उन्होंने इस तरह से कमेंट किया हो। वो ऐसी चीज़ें क्यों करते हैं? समझ ही नही आता। वो गलत हैं या नहीं ये नहीं बोलूंगा, क्यों की मुझे कोई हक्क नहीं हैं कुछ बोलने का, , I am very small. He is an educated guy, उन्हें पूरा हिंदुस्तान, उन्हें पूरी दुनिया जानती हैं। अब वोह ऐसी चीज़ें करेंगे तो क्या सोचेंगे? आम जनता तो कुछ नहीं समझेगी।’बता दें, सोनू निगम ने मंदिर, गुरुद्वारे से होने वाले शोर को भी गलत बताया था लेकिन इसके बाद अजान वाली बात पर विवाद खड़ा हो गया। जिसके बाद वेस्ट बंगाल यूनाइटेड मॉइनरिटी यूनाइटेड काउंसिल ने सोनू के खिलाफ फतवा जारी किया था। फिर क्या था सोनू निगम ने बुधवार को एक कॉन्फ्रेंस करके सिर मुंडवाया। उन्होंने खुद एक नाई को बुलाया था। सोनू ने गंजे होने से पहले मीडिया से बात भी की।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें