खेल

खेल (2823)


नई दिल्ली - टीम इंडिया के शानदार गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन की पत्नी प्रीति अश्विन ने अपनी शादी को लेकर एक ऐसा खुलासा किया है जिसे जानकर आप चौंकेंगे मगर अपनी हंसी भी नहीं रोक पाएंगे। दरअसल, 13 नंवबर को दोनों की छठी सालगिरह थी। इस दौरान अश्विन ने पत्नी को प्यारा सा मैसेज करते हुए लिखा, हमारी शादी को 6 साल हो गए प्रीति। ये वक्त कितनी जल्दी निकल गया। मेरे हर मुश्किल समय में मेरे साथ खड़े रहने के लिए शुक्रिया।
अश्विन के इस मैसेज के बाद उनकी पत्नी प्रीति ने उन्हें शुक्रिया कहा। प्रीति ने लिखा, 'शुक्रिया, कठिन वक्त को हमने मिल कर मुकाबला किया। लेकिन क्या तुम्हें लगता है कि हमारी शादी इतनी मजबूत हो गई है कि हम साथ में केटो (डाइट) ले सकते हैं।
फिर उसके बाद प्रीति ने दोनों की शादी की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, 'आज ही के दिन 6 साल पहले हमारी शादी हुई थी और हम कोलकाता गए हुए थे। मुझे परिवार वालों ने कहा था कि उसे(अश्विन) सोने देना क्योंकि अगले दिन उसका मैच था। लेकिन उस रात वहां टीम के कुछ खिलाड़ियों ने अलार्म छिपाकर रखे थे, जो पूरी रात बजते रहे। अच्छी बात ये थी कि अगले दिन टीम को बल्लेबाजी करनी थी।
प्रीति ने आगे लिखा, 'वह मेरा पहला टेस्ट मैच था। मैं जितना इस मैच के लिए घबराई थी, उतनी ही उत्साहित भी थी। मुझे सबसे अजीब तब लगा जब मैं मैदान में अश्विन को पहचान नहीं पाई।'


नई दिल्ली - भारत और श्रीलंका के बीच कल से टेस्ट सीरीज शुरू होने जा रही है। कोलकाता के ईडन गार्डन में होने वाले फर्स्ट टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कई मुद्दों पर बातचीत की है। इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कॉन्फ्रेंस में बताया कि कैसे टीम मैनेजमेंट खिलाड़ियों का वर्कलोड कम करती है। उन्होंने कहा कि मैच के दौरान कोई भी क्रिकेटर टेस्ट मैच में 30 ओवर नहीं डाल सकता। लेकिन जो लोग उसका भार उठाते हैं उन्हें आराम जरूर मिलना चाहिए।
मेरी चमड़ी काटकर देखो...
कोहली ने दिलचस्प अंदाज में अपनी बात रखते हुए कहा कि वह रोबॉट नहीं है। उन्हें भी आराम की जरूरत है। मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए विराट ने बोला कि, 'तीनों फॉर्मेट में खेलने वाले खिलाड़ियों को रेस्ट की जरूरत होती है। मैं रोबॉट नहीं हूं। आप मेरी चमड़ी को काट कर देख सकते हैं, इससे खून आएगा।'
क्रिकेटर हार्दिक पांड्या को आराम दिए जानें की बात करते हुए विराट ने कहा कि,'हर भारतीय क्रिकेटर साल में 40 मुकाबले खेलता है। जिसके ऊपर ज्यादा प्रेशर होता है उसे आराम की जरूरत होती है। वह भी उन्हीं खिलाड़ियों में शामिल है। बता दें कि श्रीलंका के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए घोषित टीम में पहले हार्दिक पांड्या का नाम शामिल था, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के शुरू होने से पहले बीसीसीआई ने उन्हें आराम करने का फैसला किया।'

 


नई दिल्ली - कप्तान सुनील छेत्री और जेजे लालपेखलुवा के शानदार खेल से भारत ने मंगलवार को मडगांव में दो बार पिछड़ने के बाद वापसी करके म्यांमार के खिलाफ एएफसी एशिया कप 2019 क्वालीफायर्स के दूसरे चरण का मैच 2-2 से ड्रॉ खेलकर अपना अजेय अभियान जारी रखा। म्यांमार के लिये यान नैंग ओ (पहले मिनट) और क्याउ को को (19वें मिनट) ने गोल करके अपनी टीम को दो बार बढ़त दिलायी। भारत की तरफ से छेत्री (13वें मिनट) और जेजे (69वें मिनट) ने गोल दागे।
भारतीय टीम पहले ही एशिया कप के लिये क्वालीफाई कर चुकी है। उसने पिछले 13 मैचों से एक भी मैच नहीं गंवाया है। इस बीच उसने 11 मैच जीते और दो मैच ड्रॉ कराये। भारत अब अगले साल मार्च में किगीर्स्तान से भिड़ेगा। भारत के लिये मैच की शुरूआत बेहद निराशाजनक रही क्योंकि म्यांमार खेल के 17वें सेकेंड में ही बढ़त हासिल कर दी जो कि फुटबॉल इतिहास के सबसे तेज गोल में से एक है।
थीन थान विन ने बायें छोर से यान नैंग ओ की तरफ क्रॉस बढ़ाया और उन्होंने हेडर से गोल करके भारतीय खिलाड़ियों के साथ स्टेडियम में मौजूद लगभग 5500 दर्शकों को भी हतप्रभ कर दिया। हालांकि भारतीय टीम ने बराबरी का गोल करने में देर नहीं लगायी। खेल के 12वें मिनट में हिलियांग बो बो ने छेत्री को बाक्स के अंदर गिरा दिया जिसके कारण भारत को पेनल्टी मिली। भारतीय कप्तान स्वयं पेनल्टी लेने के लिये और उन्होंने उस पर आसानी से गोल करके स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। यह छेत्री का भारत की तरफ से 57वां गोल था।
म्यांमार ने हालांकि इसके छह मिनट बाद गोल करके फिर से बढ़त हासिल कर दी। इसमें भारतीय गोलकीपर गुरप्रीत सिंह की भी गलती थी जो क्याउ को को के बॉक्स के बाहर से जमाये गये शॉट को नहीं समझ पाये। लगभग 20 गज की दूरी से जमाया गया शॉट आसानी से भारतीय गोल में घुस गया।
भारतीय टीम मध्यांतर तक 1-2 से पीछे थी। इस बीच भारत को 29वें मिनट में गोल करने का अच्छा मौका मिला था। छेत्री तब अकेले ही गेंद लेकर आगे बढ़े। उन्होंने आखिर में गेंद जर्मनप्रीत की तरफ बढ़ायी जिन्होंने गोल पर करारा शाट जमाया लेकिन बो बो ने उसे डिफलेक्ट करके बाहर कर दिया। म्यांमा के गोलकीपर क्याउ जिन हटेट ने भी कुछ अच्छे बचाव करके भारत को बढ़त हासिल नहीं करने दी।
दूसरे हॉफ मे भारत ने बराबरी का गोल दागने के लिये शुरू से ही प्रयास किये। खेल के 58वें मिनट में प्रीतम कोटाल के बेहतरीन क्रास पर छेत्री के पास मौका था लेकिन उनका हेडर दायीं पोस्ट के करीब से बाहर चला गया। इसके दो मिनट बाद जेजे और इयुगेनसन लिंगदोह चूक गये। इन दोनों ने हालांकि इसके बाद भारत को बढ़त दिलाने में अहम भूमिका निभायी।
लिंगदोह के दायीं तरफ से दिये गये क्रॉस पर जेजे ने अच्छी तरह से नियंत्रण बनाया। अब उनके सामने केवल गोलकीपर था जिसे छकाकर उन्होंने गेंद को दायीं छोर के किनारे पर गोल में भेजा। इसके बाद म्यांमार ने जवाबी हमले किये लेकिन बो बो के दायें पांव से जमाये गये करारे शाट को गुरप्रीत ने बड़ी खूबसूरती से बचा दिया।
संदेश के पास मैच के दौरान तीन अवसरों पर गोल करने के मौके थे लेकिन वह किसी भी समय गोलकीपर को नहीं छका पाये। भारत के पास 87वें मिनट में बढ़त बनाने का मौका था। तब भारत को बाक्स के अंदर से किक लेने का मौका मिला।
छेत्री ने गेंद को गोल में भी डाल दिया था लेकिन हांगकांग के रेफरी लियु क्योक मैन ने गोल देने से इन्कार कर दिया क्योंकि यह सीधी फ्री किक नहीं थी जिस पर पास में खड़े जेजे ने अपना पांव स्पर्श नहीं किया था। इसके बाद इंजुरी टाइम में भी छेत्री गोल करने के बेहद करीब पहुंच गये थे। उनके सामने तब केवल गोलकीपर था लेकिन उनका शाट क्रास बार के ऊपर से बाहर चला गया।


नई दिल्ली - पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद अब क्रिकेट कमेंट्री करते नजर आएंगे। 38 वषीर्य नेहरा ने एक नवंबर को भारत और न्यूजीलैंड के बीच दिल्ली में हुए पहले ट्वंटी-20 मैच के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।
संन्यास के बाद उन्होंने कहा था कि अब वह आराम करेंगे और अपने परिवार के साथ समय बिताएंगे। लेकिन दोबारा क्रिकेट से संबंधित कुछ और करेंगे क्योंकि उन्होंने अभी क्रिकेट को 25 साल ही दिए हैं।
पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है कि नेहरा अब भारत और श्रीलंका के बीच गुरुवार से शुरु होने वाली टेस्ट सीरीज से कमेंट्री में डेब्यू करेंगे और एक नए अवतार में नजर आएंगे।
सहवाग ने ट्वीट कर कहा, 'नेहरा जी का कमेंट्री वेलकम जोरों-शारों से होना चाहिए। अपने स्टाइल में आप लोग भी नेहरा जी को वेलकम जरुर करें।'
नेहरा ने भारत के लिए 17 टेस्ट, 120 वनडे और 27 ट्वंटी-20 मैच खेले जिसमें उन्होंने क्रमश: 44, 157 और 34 विकेट झटके।


नई दिल्ली - हॉकी इंडिया ने अगले माह भुवनेश्वर में 1 से 10 दिसंबर तक होने वाले पुरुष हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल के लिए मंगलवार को टिकटों की बिक्री की घोषणा कर दी। हॉकी इंडिया ने बताया कि टूनार्मेंट के लिए बुधवार से टिकटों की बिक्री शुरु होगी। टूनार्मेंट के लिए सभी मैचों के टिकट राजधानी भुवनेश्वर में मिलेंगे। टिकटों की न्यूनतम कीमत 50 रुपये और अधिकतम 250 रुपये होंगे। दर्शक ऑनलाइन भी टिकट खरीद सकते हैं।
टूनार्मेंट का पहला मैच 1 दिसंबर को जर्मनी और इंग्लैंड के बीच खेला जाएगा। इसी दिन दूसरे मैच में मेजबान भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से होगा। टूनार्मेंट के पूल ए में अर्जेंटीना, हॉलैंड, बेल्जियम और स्पेन तथा पूल बी में ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, भारत और इंग्लैंड हैं।
हॉकी इंडिया के महासचिव मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा,' पुरुष हॉकी वर्ल्ड लीग का आयोजन करने से भुवनेश्वर और देश के लोगों को विश्व स्तरीय मैच देखने का अनुभव मिलेगा। टिकटों की बिक्री शुरु होने से हम बेहद खुश हैं। टिकट प्राप्त करने के लिए ऐसी व्यवस्था की गई है जिससे प्रशंसकों को टिकट खरीदने में कोई परेशनी न हो।'


नई दिल्ली - यह किसी भी पिता का सपना और यादगार क्षण होता है कि उसके बनाए रिकॉर्ड को उसका बेटा तोड़े। यह खास पल भारत के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज नयन मोंगिया को नसीब हुआ है।
दरअसल उनके लड़के मोहित मोंगिया ने अंडर-19 क्रिकेट में धूम मचा रखी है। कूच बिहार ट्रॉफी में बड़ौदा की कप्तानी कर रहे मोहित ने करीब 30 साल बाद अपने पिता के ही हाई स्कोर के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है।
मोहित ने मुंबई के खिलाफ 246 गेंदों में नाबाद 240 रनों की पारी खेली। यह बड़ौदा की ओर कूच बिहार ट्रॉफी में किसी बल्लेबाज का सर्वाधिक स्कोर है। इससे पहले नयन मोंगिया ने 1988 में केरल के खिलाफ 224 रन बनाए थे।
बेटे द्वारा खुद का रिकॉर्ड तोड़े जाने के बाद नयन मोंगिया ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, 'मैं खुश हूं कि मेरे बेटे ने यह रिकॉर्ड तोड़ा। यह अविश्वसनीय है। मोहित जोरदार खेल रहा है। वह इस रिकॉर्ड के योग्य भी है।
उन्होंने कहा, 'मोहित ने मुझे कॉल किया था। वह इस पारी को लेकर काफी खुश है. भारत की ओर से 44 टेस्ट और 140 वनडे खेल चुके नयन ने कहा कि उसे सिर्फ एक डबल सेंचुरी से ही संतुष्ट नहीं होना चाहिए।'
इस मुकाबले में केरल ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 370 रन बनाए थे। मोहित के दोहरे शतक की बदौलत बड़ौदा ने दिन का खेल खत्म होने तक 7 विकेट पर 409 रन बना लिए थे, मोहित नाबाद लौटे।

 

नई दिल्ली - क्रिकेट के अनिश्चिताओं भर खेल में चौंकाने वाले रिजल्ट देखने को मिलते-रहते हैं। ऐसा ही कुछ अंडर-19 एशिया कप में देखने को मिला। टूर्नामेंट की सरप्राइजिंग टीम बनकर उभरी नेपाल एक पर पर उलटफेर कर रही है।टीम ने पहले डिफेंडिंग चैम्पियन भारत को हराया, उलटफेरों का सिलसिला यहीं नहीं रुका और नेपाल ने एक बार फिर से अपना दम दिखाते हुए मलेशिया की टीम को हराकर पहली…
नई दिल्ली - इटली की टीम ने सेन सीरो में स्वीडन के साथ प्ले ऑफ का दूसरे चरण का मुकाबला गोलरहित ड्रॉ खेलने के साथ ही 1958 के बाद पहली बार फीफा वर्ल्ड कप में जगह बनाने से चूक गई। स्वीडन की टीम ने कुल स्कोर के आधार पर 1-0 की जीत के साथ वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई किया।चार बार की पूर्व चैंपियन इटली की टीम ने गेंद को…
नई दिल्ली - भारत के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने मंगलवार को कोलकाता में कहा कि श्रीलंका के 9-0 से सफाये का वापसी सीरीज पर कोई असर नहीं पड़ेगा। टीम का फोकस आईसीसी रैकिंग में टेस्ट में टॉप पर बने रहने का है। भारत ने श्रीलंका दौरे पर सभी फोर्मेट्स में सारे मैच जीते थे। अब टीम इंडिया तीन टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैचों में श्रीलंका की मेजबानी करेगी।रहाणे…
नई दिल्ली - पाकिस्तानी स्पिनर सईद अजमल ने गेंदबाजी एक्शन में बदलाव करने के दो साल बाद सोमवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की। अपने सफल लेकिन विवादास्पद करियर के दौरान अजमल एक समय वनडे और टी20 इंटरनेशनल में दुनिया के नंबर एक गेंदबाज थे और टेस्ट मैचों में भी काफी सफल थे। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 2012 में तीन टेस्ट मैचों में 24 विकेट…
Page 4 of 202

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें