खेल

खेल (3308)


नई दिल्ली - हरमनप्रीत कौर के विश्व कप में बेजोड़ प्रदर्शन के लिये ईएसपीएनक्रिकइन्फो वार्षिक पुरस्कारों में महिला क्रिकेट में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन आंका गया। वहीं कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल भी पुरस्कार हासिल करने वालों में शामिल रहे। कुल 12 पुरस्कारों में से तीन पुरस्कार भारतीय खिलाड़ियों को मिले जो किसी एक देश के खिलाड़ियों को मिले सर्वाधिक पुरस्कार हैं।
हरमनप्रीत ने विश्व कप के दौरान आस्ट्रेलिया के खिलाफ 171 रन की तूफानी पारी खेली थी। इस टूर्नामेंट में भारत उप विजेता रहा था और हरमनप्रीत के प्रदर्शन को महिला बल्लेबाजी में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन आंका गया। लेग स्पिनर चहल को इंग्लैंड के खिलाफ बेंगलुरू में तीसरे टी-20 में 25 रन देकर छह विकेट लेने के कारनामे के लिये वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टी-20 गेंदबाजी प्रदर्शन आंका गया।
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में अपने पदार्पण टेस्ट मैच से सुर्खियों में आने वाले कुलदीप अब भारतीय टीम का अहम अंग हैं। उन्होंने 2017 में तीनों प्रारूपों में 43 विकेट लिये और उन्हें पदार्पण वर्ष में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी का पुरस्कार मिला। वर्ष का कप्तान पुरस्कार पहली बार किसी महिला खिलाड़ी को दिया गया। इंग्लैंड की हीथर नाइट को यह पुरस्कार मिला। उनकी अगुवाई में इंग्लैंड ने विश्व कप जीता था।
नाइट की साथी अन्या श्रबसोले का विश्व कप फाइनल में भारत के खिलाफ 46 रन देकर छह विकेट लेने के लिये महिलाओं में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन आंका गया। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ को भी पुरस्कार मिला। भारत के खिलाफ पुणे में उनकी 109 रन की पारी को वर्ष की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट पारी माना गया। उनके साथी नाथन लियोन ने बेंगलुरू टेस्ट में 50 रन देकर आठ विकेट लिये जिसे वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट गेंदबाजी प्रदर्शन आंका गया।
इविन लुईस को किंग्सटन में भारत के खिलाफ 125 रन की पारी के लिये वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टी-20 बल्लेबाजी प्रदर्शन पुरस्कार मिला। फखर जमां और मोहम्मद आमिर ने आईसीसी चैंपियन्स ट्राफी फाइनल में पाकिस्तान को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभायी। उन्हें क्रमश: सर्वश्रेष्ठ वन डे बल्लेबाजी और गेंदबाजी प्रदर्शन का पुरस्कार दिया गया। विजेताओं का चयन 18 सदस्यीय ज्यूरी ने किया जिसमें इयान चैपल, रमीज राजा, कर्टनी वाल्स, मार्क बूचर, डेरेल कलिनन, रसेल अर्नोल्ड जैसे क्रिकेटर और पूर्व अंपायर साइमन टफेल भी शामिल थे।


नई दिल्ली - वनडे और टेस्ट में आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन पर काबिज टीम इंडिया के पास एक सुनहरा मौका है। भारतीय क्रिकेट टीम अगर अगले 6 टी-20 मैचों में अपना विजयी क्रम जारी रखती है तो वह टी-20 रैंकिंग में भी नंबर वन जाएगी। जिस तरह से कैप्टन विराट कोहली की अगुवाई में प्रदर्शन कर रही है तो माना जा रहा है यह नामुमकिन नहीं है। लेकिन इसके लिए उसे दक्षिण अफ्रीका में तीनों टी-20 मैच जीतने के अलावा इसके बाद श्रीलंका में होने वाली टी-20 ट्राई सीरीज में 6 मार्च को श्रीलंका, 8 मार्च को बांग्लादेश और फिर 12 मार्च को श्रीलंका के खिलाफ भी मुकाबले जीतने होंगे। मतलब यह कि अगली छह लगातार जीत टीम इंडिया को टी-20 रैंकिंग में भी नंबर-1 की पायदान दिला देगी।
आपको बता दें कि टेस्ट, वनडे और टी-20 में एक साथ नंबर वन बनने का कारनामा इससे पहले बस साउथ अफ्रीका की टीम ही कर सकी है। वर्तमान में टीम इंडिया रैंकिंग में तीसरे नंबर पर है। उसके 121 अंक है जबकि पहले स्थान पर काबिज पाकिस्तान के 126 अंक है। हालांकि टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में जीत के बाद पाकिस्तान को एक मामले में पीछे छोड़ दिया है। पहला टी-20 वर्ल्ड कप (2007) जीतकर इतिहास रचने वाली टीम इंडिया ने इस छोटे फार्मेट में जीत के प्रतिशत के हिसाब से नंबर वन चुकी है। फिलहाल टीम इंडिया का जीत प्रतिशत 61.54 है।
देश -            जीत का प्रतिशत
भारत-             61.54
पाकिस्तान-       60.98
साउथ अफ्रीका-   59.00
ऑस्ट्रेलिया-      52.53
श्रीलंका-           51.46
न्यूजीलैंड-        50.91
वेस्टइंडीज-       50.00
इंग्लैंड-           48.00


जोहांसबर्ग - भारत और साउथ अफ्रीका के बीच चल रही तीन मैचों की टी-20 सीरीज का पहला मैच न्यू वांडरर्स पार्क में खेले गया। दक्षिण अफ्रीका ने पहले टॉस जीतते हुए भारत को बल्लेबाजी करने का मौका दिया। भारत ने पहले खेलते हुए 204 रनों का लक्ष्य साउथ अफ्रीका के सामने रखा। लेकिन दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी तीसरे ओवर में ही लड़खड़ाना शुरू हो गए, और एक के बाद एक विकेट गिरते चले गए। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने टी-20 सीरीज के पहले मैच में जीत का श्रेय टीम की बल्लेबाजी और भुवनेश्वर कुमार की शानदार गेंदबाजी को दिया। अपनी शानदार गेंदबाजी के दमपर न्यू वांडरर्स पार्क में खेले गए मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 28 रनों से हराया और पहला मैच अपने नाम कर लिया।
मैच के बाद एक बयान में कोहली ने कहा, 'रोहित और शिखर ने सलामी बल्लेबाजों के रूप में अच्छा प्रदर्शन किया। भुवनेश्वर ने अपनी अनुभवी गेंदबाजी का दम दिखाया। यह टीम का अच्छा प्रयास रहा।' इतना ही नहीं, उन्होंने कहा, 'हम काफी समय से टी-20 प्रारूप में इस प्रकार के प्रदर्शन का इंतजार कर रहे थे। यह हमारे सबसे संतुलित प्रदर्शन में से एक है। हमने 16वें ओवर तक 220 रन बनाने का सोचा था लेकिन महेंद्र सिंह धौनी के आउट होने के साथ इस स्कोर को हासिल नहीं कर पाए। अंत में लक्ष्य जीत था और वह हमने हासिल किया।'

 


दिल्ली - भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली इन दिनों पूरे फॉर्म में नजर आ रहे हैं। हर मैच में वो एक नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लेते हैं। उनकी इसी परफॉर्मेंस को देखते हुए बड़े-बड़े दिग्गज उनकी तुलना सचिन तेंदुलकर से करते हैं। और इसी में एक और दिग्गज इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गुंडप्पा विश्वनाथ का नाम जुड़ गया है। उनका मानना है कि सचिन का 100 शतक बनाने का रिकॉर्ड विराट बहुत जल्द तोड़ देंगे। उन्होंने हाल ही में विराट कोहली की तारीफ करते हूए कहा कि उनके पास मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के 100 शतकों के रिकार्ड को तोड़ने का 'शानदार मौका है। बेहतरीन फार्म में चल रहे कोहली दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में 500 से ज्यादा रन बनाकर द्विपक्षीय श्रृंखला में ऐसा करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं।
उन्होंने श्रृंखला में तीन शतकों के बूते अपना 35वां एकदिवसीय शतक बनाया। अंडर-14 आमंत्रण क्रिकेट टूर्नामेंट से इतर विश्वनाथ ने कहा, 'कोहली ने कमाल का प्रदर्शन किया है और निरंतरता दिखाई है। वह लगातार शतक बना रहे हैं। उनके पास तेंदुलकर के रिकॉर्ड तोड़ने का पूरा मौका होगा, लेकिन यह थोड़ा मुश्किल भी है। उन्होंने कहा, 'रिकार्ड बनते ही हैं टूटने के लिए। मैं उनके (कोहली) लिए खुश हूं और मुझे उम्मीद है कि सचिन भी इससे खुश होंगे। हालांकि उन्हें अभी लंबा सफर तय करना है। विश्वनाथ ने कहा, 'सब को पता है कि कोहली क्या कर रहे हैं, वह कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी निरंतरता, रन बनाने की भूख, आक्रमकता कमाल की है।

क्रिकेट प्रेमियों की जान विराट कोहली और बॉलीवुड की दिवा अनुष्का शर्मा की जोड़ी इस वक्त की सबसे चर्चित जोड़ी है। शादी के बाद भी यह कपल सुर्खियों में बना ही रहता है। अब एक बार फिर इनके प्यार की रवानगी लोगों के बीच चर्चा का विषय है। दरअसल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया की जीत से खुश कप्तान ने अपने इंटरव्यू के दौरान अपने बढ़िया प्रदर्शन का क्रेडिट दिया अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा को।इसके बाद विराट का यह इंटरव्यू वीडियो वायरल हो गया है। विराट कोहली ने जीत के बाद इंटरव्यू में जवाब देते हुए कहा, ‘जो मेरे करीबी है उन्हें मेरे इस प्रदर्शन का श्रेय जाता है। मेरी पत्नी (अनुष्का शर्मा) ने मुझे इस दौरे (दक्षिण अफ्रीका) पर बहुत सहयोग किया। इसके लिए मैं उनका शुक्रगुजार हूं।’इसके अलावा विराट कोहली ने कहा कि आप आगे से टीम को लीड करना चाहते हैं यह एक नायाब चीज है। उन्होंने कहा कि अभी उनके अंदर 8-9 साल का क्रिकेट बाकी है और वो इसी तरह हर दिन खेलना चाहते हैं। विराट ने कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि वो स्वस्थ है और उन्हें देश के लिए क्रिकेट की कप्तानी करने का मौका मिला है। इसके अलावा उन्होंने गेंदबाजों की जमकर तारीफ भी की।बता दें कि विराट कोहली और अनुष्का शर्मा ने लंबे समय से चल रही अफेयर की खबरों पर ब्रेक लगाते हुए देश के बाद इटली में जाकर चुपचाप दिसंबर में शादी कर ली। इसके बाद अपने फैंस को इसकी जानकारी उन्होंने सोशल मीडिया पर शादी की फोटो शेयर करके दी। हालांकि उसके बाद देश लौट दोनों ने दो बड़ी ग्रैंड रिसेप्शन पार्टियां दिल्ली और मुंबई में दी जिसने मीडिया में खूब सुर्खियां बटोरी।शादी के बाद विराट का पूरा फोकस अपने क्रिकेट की दुनिया पर है तो अनुष्का अपनी फिल्मों में बिजी है। 2 मार्च को होली के मौके पर उनकी फिल्म ‘परी’ रिलीज होने वाली है जिसका ट्रेलर आउट हो चुका है। विराट भी पत्नी की फिल्मों के प्रमोशन में उनका साथ दे रहे हैं। उन्होंने खुद भी परी के ट्रेलर को सोशल मीडिया एकाउंट पर शेयर करते हुए तारीफ भी की है।इसके अलावा अनुष्का अपनी एक और फिल्म ‘सुई-धागा’ की शूटिंग में व्यस्त है और समय-समय पर इससे जुड़ी जानकारियां साझा करती रहती है

अकेले दम पर अपनी टीम को जीत की राह पर लौटाना और गलतियों के लिये खुद को कोसना उन पहलुओं में शामिल हैं जो दक्षिण अफ्रीकी कप्तान एडेन मार्कराम भारतीय कप्तान विराट कोहली से सीखना चाहते हैं।मार्कराम ने देखा कि कोहली ने खुद बेहतरीन प्रदर्शन किया जिससे भारत ने दक्षिण अफ्रीका को छह मैचों की वनडे श्रृंखला में 5-1 से हराया। कोहली ने श्रृंखला में तीन शतकों और एक अर्धशतक की मदद से 558 रन बनाए।
कोहली से काफी चीजें सीख सकता हूं...:-मार्कराम ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''कोहली अपनी टीम को मैच जिताने के लिये बेताब रहते हैं और इसलिए वह अपनी गलतियों के लिये खुद को कोसते हैं। यह सब प्रतिस्पर्धी नजरिए से है और इसमें कुछ भी दुर्भावना नहीं होती है। जब वह बल्लेबाजी करता है तब यह बेताबी दिखती है। वह टीम को सिर्फ जीत के करीब नहीं पहुंचाना चाहता बल्कि वह जीतना भी चाहता है। दक्षिण अफ्रीका के युवा कप्तान ने कहा, ''इसलिए मैं उनसे (कोहली) काफी चीजें सीख सकता हूं। उनकी पूरी टीम और अपनी टीम से मैं काफी चीजें सीख सकता हूं। मैं इधर-उधर से छोटी छोटी चीजें सीख रहा हूं।"
दोनों टीमों के बीच कोहली ने पैदा किया अंतर... :-मार्कराम को यह कहने में कोई हिचकिचाहट नहीं कि दोनों टीमों के बीच कोहली ने सबसे बड़ा अंतर पैदा किया। उन्होंने कहा, ''उसने बहुत बड़ा अंतर पैदा किया। वह वास्तव में बेहतरीन फार्म में है और उसने दिखाया। उसकी रनों की भूख और मैच के परिणाम को अपने पक्ष में करने की बेताबी का कोई जवाब नहीं है और इसलिए वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक है। मार्कराम ने कहा, ''उसने (कोहली) बहुत अंतर पैदा किया और उनके स्पिनरों ने भी अहम भूमिका निभायी। लेकिन कोहली के लिये यह शानदार श्रृंखला रही और जो श्रेय का हकदार है उसे वह दिया जाना चाहिए।
शर्मनाक काफी कड़ा शब्द...:-मार्कराम से पूछा गया कि क्या इतने बड़े अंतर से हारना शर्मनाक है, उन्होंने कहा, ''शर्मनाक काफी कड़ा शब्द है। निश्चित तौर पर हम वैसा प्रदर्शन नहीं कर पाये जैसा कि हम चाहते थे। एक टीम के तौर पर हम वास्तव में निराश हैं। मैं यह नहीं कहना चाहूंगा कि हम शर्मिंदा हैं। उन्होंने कहा, ''हमें पता था कि वनडे श्रृंखला कड़ी होगी। मैं इसके लिये तैयार था और मैंने इस चुनौती का लुत्फ उठाया। मैं श्रृंखला 5-1 से गंवाने के बावजूद यहां बैठकर यह कह सकता हूं। यह एक जिम्मेदारी थी जिसका मैंने लुत्फ उठाया। मैंने अपने करियर के इस चरण में काफी कुछ सीखा और यह बुरी चीज नहीं है।

अनुभवी आलराउंडर रूमेली धर को चोटिल झूलन गोस्वामी के स्थान पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बाकी बचे तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के लिये भारतीय महिला टीम में शामिल किया गया है। झूलन पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान चोटिल हो गयी थी जिसके कारण महिला चयनसमिति को यह बदलाव करना पड़ा।200 विकेट लेने वाली पहली गेंदबाज है रूमेली...:-यह तेज गेंदबाज हाल में वनडे में 200 विकेट लेने वाली दुनिया…
कप्तान विराट कोहली की रिकॉर्डतोड़ पारी और 35वें वनडे शतक की मदद से भारत ने शुक्रवार को साउथ अफ्रीका को छठे और अंतिम वनडे में 8 विकेट से हराकर सीरीज 5-1 से अपने नाम कर ली। दक्षिण अफ्रीकी सरजमीं पर भारत ने यह पहली श्रृंखला जीती है और उपमहाद्वीप के बाहर यह सबसे बड़ी जीत है।मैच के बाद जब विराट से पूछा गया कि विदेशी धरती पर टीम इंडिया की…
जोहानिसबर्ग में भारतीय महिला क्रिकेट टीम और दक्षिण अफ्रीका महिला क्रिकेट टीम के बीच तीसरा टी-ट्वेंटी मैच चल रहा है। इस मैच में टीम इंडिया ने टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर्स में 133 रन का लक्ष्य दियाखबर लिखे जाने तक दक्षिण अफ्रीकी महिला टीम ने 16 ओवर्स में चार विकेट के नुकसान पर 111 रन बना लिये हैं। काफी अक्रामक खेल रही सुन लुस को 41…
पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने अपना ब्रांड अम्बेसेडर नियुक्त किया है। शोएब इसके अलावा पीसीबी के अध्यक्ष के लिए क्रिकेट मामलों के सलाहकार भी रहेंगे।पीसीबी के अध्यक्ष नजम सेठी ने ट्विटर पर यह घोषणा की। 42 साल के शोएब हालांकि पूर्व में नजम सेठी के धुर विरोधी रह चुके हैं और 2013 में उन्होंने कहा था कि सेठी के कार्यकाल में पाकिस्तानी क्रिकेट…
Page 4 of 237

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें