नई दिल्ली - भारतीय नागरिक और पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव की दया याचिका पाकिस्तान की सैन्य अदालत की तरफ से खारिज होने के बाद यह मामला अब पाकिस्तानी सेना प्रमुख के पास पहुंच गया है। पाक के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा ने कुलभूषण जाधव के खिलाफ सबूतों का आकलन करना शुरू कर दिया है, जिसके आधार पर उनकी 'दया याचिका' पर फैसला लिया जा सकता है।
इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के मुताबिक जाधव ने पिछले महीने 22 जून को बाजवा के पास दया याचिका दायर की थी। बयान में कहा गया है पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट द्वारा दया याचिका खारिज होने के बाद जाधव ने पाक आर्मी चीफ के यहां दया याचिका दाखिल की है। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा कि जनरल बाजवा जाधव के खिलाफ सबूत का विश्लेषण कर रहे थे। सेना प्रमुख मेरिट पर जाधव की अपील पर फैसला करेंगे।
जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने कथित जासूसी के आरोप में फांसी की सजा सुना चुकी है। गौरतलब है कि पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्वारा जाधव को मौत की सजा सुनाए जाने के खिलाफ भारत ने इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) में अपील की है। ICJ ने फिलहाल जाधव की फांसी पर रोक लगा रखी है। ICJ ने भारत को जाधव मामले में और दस्तावेज जमा करने के लिए 13 सितंबर तक का वक्त दिया है, जबकि पाकिस्तान को 13 दिसंबर तक अपना पक्ष रखना है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें