दुनिया

दुनिया (1748)

अमेरिका के इलिनोइस राज्य में एक युवा को 85 वषीर्या एक महिला के साथ लूटपाट करने और दुष्कर्म के मामले में 100 साल कैद की सजा दी गई है।समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, 23 वषीर्य अपराधी टेविन रेनी के बचाव को लेकर किसी अतिरिक्त प्रस्ताव की सुनवाई चार मई को होगी।रेनी 2015 में नववर्ष के दिन शिकागो से करीब 40 किलोमीटर दूर एक वृद्धा के घर में घुस गया।उसके बाद उसने बंदूक दिखाकर वृद्धा के साथ दुष्कर्म किया और बाद में उसे जबरन एटीएम ले जाकर उसके पैसे निकलवा लिए।आरोपी को महिला के साथ दुष्कर्म के लिए 60 साल और बंदूक का डर दिखाकर लूटपाट करने के जुर्म में और 40 साल की सजा दी गई है।

संकटों से घिरे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने शनिवार को अपने विश्वासपात्र सहयोगी तारिक फातमी को उनके पद से हटा दिया। एक उच्च स्तरीय सुरक्षा बैठक के दौरान पाकिस्तान के नागरिक और सैन्य नेतृत्व के बीच टकराव के बारे में मीडिया में सूचना लीक होने के मामले की जांच में दोषी पाए जाने के बाद उनको हटाने का निर्णय किया गया है। जांच समिति ने पाक प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के विशेष सहायक फातमी को हटाने की सिफारिश की थी, जिसे शरीफ ने मंजूरी दे दी।फातमी (72) को प्रधानमंत्री का विश्वासपात्र सहयोगी समझा जाता रहा है और उनको पद से हटाया जाना शरीफ सरकार के लिए झटका है जो पहले ही पनामा मामले में दबाव का सामना कर रही है। न्यायमूर्ति :सेवानिवत्त: आमिर रजा की अध्यक्षता वाली समिति में खुफिया ब्यूरो के प्रतिनिधि भी शामिल थे। राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर हुई प्रमुख बैठक की खबर के सुर्खियों में आने के बाद विवाद पैदा हो गया था, जिसकी जांच के लिए पिछले साल जांच समिति का गठन किया गया था।

चीन को अपने अंतरराष्ट्रीय प्रोजेक्ट को पूरा करने से पहले अन्य देशों के विवादों पर भी ध्यान देना चाहिए। कम्युनिस्ट पार्टी के शीर्ष विद्वान ने कहा है कि कम्युनिस्ट देश को चीन-पाकिस्तान इकोनोमिक कोरिडोर (सीपीईसी) को पूरा करने में भारत की चिंताओं का भी ध्यान रखना चाहिए। उन्होंने साथ ही कहा कि जब तक इन विवादों का समाधान नहीं हो जाए तब तक इन प्रोजेक्टों को अस्थाई रूप से रोका जा सकता है। कास्गर-ग्वादर सीपीईसी प्रोजेक्ट चीन के राष्ट्रपति शी जिंगपिग का बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) के अंतर्गत प्रमुख प्रोजेक्ट है। भारत लगातार इस प्रोजेक्ट को लेकर अपनी चिंताएं पड़ोसी देश के समक्ष उठाता रहता है जो कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) से होकर गुजरेगा।चीन के थिंक टैंक एकेडमी ऑफ सोशल साइंसेज (सीएएसएस) की अध्यक्ष मंडली के सदस्य झांग युनलिंग ने कहा कि अतंरराष्ट्रीय परियोजनाओं में दूसरे देशों के हित भी शामिल होते हैं। हमें समन्वय स्थापित करने की जरूरत है जिससे सभी पक्ष इसको मान सकें। अगर हम कोई संतुलन नहीं बना सकें तो इसको रोका जा सकता है। यह पूछे जाने पर कि सीपीईसी पाक अधिकृत कश्मीर से गुजर रहा है तो झांग ने कहा कि उदाहरण के लिए मेकांग नदी पर नेविगेशन रूट के मामले में काफी समस्या आई थीं। हमने एक के बाद एक समस्या पर चर्चा की थी। हमें सीखने की जरूरत है। कभी-कभी सबक काफी बड़ा होता है। हम प्रोजेक्ट को रोक सकते हैं।उन्होंने कहा कि यह हमेशा आसान नहीं होता है। किसी भी अंतरराष्ट्रीय प्रोजेक्ट में कई देशों की चिंताएं होती हैं। हमें संतुलना बना चाहिए जो कि सभी पक्षों को मान्य हो। उन्होंने आगे कहा कि अगर किसी संतुलन तक नहीं पहुंच सकें तो प्रोजेक्ट को कुछ समय के लिए बंद कर देना चाहिए। किसी भी अंतरराष्ट्रीय परियोजना में इस तरह की जटिलताएं पेश आती ही हैं। मई में होने वाले बेल्ट एंड रोड फोरम (बीआरएफ) के लिए झांग प्रेस को संबोधित कर रहे थे। इस फोरम में 30 राष्ट्रों के राष्ट्राध्यक्ष शिरकत करेंगे।

पाकिस्तान के दक्षिण सिंध प्रांत के एक हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ ईशनिंदा और आतंकवाद का मामला दर्ज किया गया है।पुलिस ने बताया कि कुछ देवताओं की मूर्तियों को क्षति पहुंचाई गई और कुछ के टुकड़े निकट की सीवेज लाइन में मिले हैं। यह घटना शुक्रवार को थाटा जिले के गारो शहर में हुई।डॉन की खबर के मुताबिक, पुलिस ने ईशनिंदा और आतंकवाद का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ मूर्तियों को क्षति पहुंचाने के संबंध में एफआईआर भी दर्ज की है।मामले की जांच जारी है लेकिन अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। स्थानीय हिंदू काउंसलर लाल माहेश्वरी ने बताया, ऐसा प्रतीत होता है कि किसी ने रात के एक बजे से सुबह पांच बजे के बीच में मंदिर में प्रवेश किया था। जब सुबह लोग पूजा करने आए तो मूर्तियां गायब थी। मंदिर के इतिहास में यह पहली बार हुआ है। सिंध के मुख्यमंत्री के अल्पसंख्यक मामलों के सलाहकार डाक्टर खट्टो मल ने कहा कि तोड़फोड़ करनेवालों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। गारो राष्ट्रीय राजमार्ग से लगा हुआ है और यह कराची से 60 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां करीब 2,000 परिवार रहते हैं, जिनमें से ज्यादातर हिंदू हैं।

सीरिया से आए दिन आईएस आतंकियों से शादी करने वाली जेहादी दुल्हनों की दर्दनाक कहानियां सामने आती हैं। उसमे एक और नाम जुड़ गया है, इस्लाम मेतात का। मोरक्को की 23 साल की इस लड़की को एक के बाद एक तीन लड़ाकों से निकाह करना पड़ा, जिसमें से दो मारे गए तो तीसरे ने तलाक दे दिया। अब दो बच्चों की मां बन चुकी मेतात किसी तरह मोरक्को में अपने रिश्तेदारों के पास पहुंचकर नए सिरे से जिंदगी जीने की कोशिश कर रही है।
पहला पति धोखे से ले गया सीरिया:-मेतात लंदन में स्टाइलिस्ट बनना चाहती थी। 2014 की शुरुआत में वह इंटरनेट के जरिए अफगानी ब्रिटिश बिजनेसमैन खलील अहमद के संपर्क में आई तो लंदन में कॅरियर की चाह में उसके जाल में फंस गई। दो महीने बाद दोनों ने मोरक्को में शादी कर ली। पर शादी के बाद खलील मेतात को लेकर लंदन की जगह दुबई के रास्ते सीरिया लेता गया। जहां खलील का भाई अपने परिवार के साथ पहले से रहता था। सितंबर में मेतात गर्भवती हुई और अक्तूबर में पति और उसका भाई आईएस में शामिल हो गए। कुछ दिनों बाद खलील के भाई ने आकर बताया कि खलील मारा गया।
गर्भावस्था में सीखना पड़ा हथियार चलाना:-पति की मौत के बाद अनजान देश में मेतात एकदम अकेली हो गई। उसे जेहादियों की विधवाओं के गेस्ट हाउस में रखा गया और गर्भवती होने के बावजूद हथियारों चलाने की ट्रेनिंग लेने के लिए मजबूर किया गया।
दूसरे पति ने घर से बाहर तक नहीं निकलने दिया:-बेटे अब्दुल्ला को जन्म देने के बाद उसे एक नए आशियाने की जरूरत थी, इसलिए उसने अफगानी मूल के एक लड़ाके अबु अब्दुल्ला से शादी कर ली। पर अब्दुल्ला उसे घर से निकलने तक नहीं देता था। तंग आकर उसने दो महीने बाद अब्दुल्ला से तलाक मांग लिया।
तीसरा पति भारतीय मूल का लड़ाका:-बाद में मेतात ने भारतीय मूल के लड़ाके अबु ताल्हा अल हिंद से निकाह किया। 18 महीने की इस शादी के दौरान मेतात ने अपनी बेटी मारिया को जन्म दिया, लेकिन कुछ दिनों बाद जंग में अबु ताल्हा भी मारा गया।

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। उसने सोमवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर का मुद्दा उठाया, जिसका भारत ने कड़ा विरोध दर्ज कराया। भारत ने कहा कि यह एक द्विपक्षीय ममला है, जिसे संयुक्त राष्ट्र के मंच पर नहीं लाया जाना चाहिए।संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के स्थायी मिशन के मंत्री मसूद अनवर ने 25 अप्रैल को सूचना समिति के संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र में एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कश्मीर का मुददा उठाया था। अनवर ने पहले फलस्तीन के हालातों का जिक्र किया। फिर उन्होंने कहा, ‘हम आपसे अनुरोध करेंगे कि आप कश्मीर के लोगों के लिए भी ऐसा ही करें। वे लगातार कष्ट उठा रहे हैं।’जैसे ही यह टिप्पणी की गई, वैसे ही संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के प्रतिनिधि एस श्रीनिवास प्रसाद ने अनवर के भाषण को बीच में रोक दिया और पाकिस्तानी प्रतिनिधि की ओर से कश्मीर के मुद्दे का जिक्र किए जाने पर कड़ा विरोध दर्ज कराया। यूएन में पाक की राजदूत मलीहा लोधी भी उस वक्त महासभा में मौजूद थीं और उन्होंने अपने देश के प्रतिनिधि से भाषण जारी रखने को कहा। प्रसाद ने बात में कहा कि कश्मीर मुद्दे का विषय से कोई संबंध नहीं था और उन्हें खुशी है कि मुद्दे को उठाने की इजजत नहीं दी गई।

 

अमेरिका के कैलिफोर्निया में इंसान और रोबोट के बीच एक अनोखे झगड़े की घटना सामने आई है। एक 41 साल के व्यक्ति ने शराब के नशे में सुरक्षाकर्मी रोबोट से मार-पीट की जिसके बाद उसे गिरफ्तार लिया गया है।यह घटना पिछले हफ्ते की है जब सिलिकॉन वैली में नशे में धुत जैसन माउंटेन व्यू पार्किंग में खड़ी अपनी कार के पास पहुंचे और उन्होंने वहां सुरक्षाकर्मी के तौर पर तैनात…
वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज कहा कि सरकार की कृषि आय पर किसी तरह का कर लगाने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने नीति आयोग के सदस्य विवेक देबराय के इस बारे में दिये गये सुझाव को खारिज कर दिया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है, मैं स्पष्ट रूप से कहता हूं कि केंद्र सरकार की कृषि आय पर कर लगाने की कोई योजना नहीं है।मंत्री ने स्पष्ट किया कि…
चीन के दक्षिण चीन सागर में विस्तार को लेकर चिंताओं के बीच बीजिंग ने आज अपने पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत का जलावतरण किया है जो यूक्रेन से खरीदे गए मौजूदा पोत के साथ शामिल होगा। इससे बीजिंग की सैन्य क्षमताओं में भी बढ़ोतरी होगी। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार चीन शिपबिल्डिंग इंडस्ट्री कॉपोर्रेशन (सीएसआईसी) के पूवोर्त्तर डालियान शिपयार्ड में प्रक्षेपण समारोह के दौरान 50,000 टन के इस नए विमानवाहक…
भारत ने बुधवार को कुलभूषण जाधव को दूतावास सलाह उपलब्ध कराने की मांग की है। पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने भारतीय नागरिक को कथित रूप से जासूसी के लिये मौत की सजा सुनाई है।इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त गौतम बम्बावाले ने पाकिस्तान की विदेश सचिव तहमीना जंजुआ से मुलाकात के दौरान यह मांग रखी। 19 अप्रैल को बम्बावाले और तहमीना के बीच बैठक के कार्यक्रम में बदलाव किया गया था।…
Page 1 of 125

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें