नई दिल्ली - इस साल दिवाली पर बाजारों में पिछले कुछ वर्षों के मुकाबले ज्यादा रौनक रही और कारोबार तेज उछाल के साथ करीब 30 हजार करोड़ रुपये पहुंच गया। इसमें पिछले साल के मुकाबले करीब 15 फीसदी का उछाल आया है। हालांकि ऑनलाइन बाजार के बढ़ते दायरे के कारण कारोबारियों को उम्मीद के मुताबिक मुनाफा नहीं हो सका।
कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) का कहना है कि पिछले कई वर्षों के मुकाबले इस बार दिवाली के त्योहारी मौसम में देशभर के बाजारों में रौनक और व्यापार भी अच्छा हुआ। कैट के महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस साल व्यापार में लगभग 15 प्रतिशत का इजाफा हुआ। एक अनुमान के मुताबिक, इस दिवाली करीब 30 हजार करोड़ रुपये का व्यापार हुआ जो पिछले साल लगभग 25 हजार करोड़ रुपये था। अकेले दिल्ली में इस बार लगभग 5 हजार करोड़ रुपये का व्यापार हुआ है।
इन उत्पादों की ज्यादा बिक्री
दिवाली पर सबसे ज्यादा बिक्री दैनिक उपभोग की वस्तुओं जैसे इलेक्ट्रॉनिक्स, बिजली का सामान, सजावटी सामान, गिफ्ट आइटम्स, ड्राई फ्रूट, बिस्किट्स, रेडीमेड गारमेंट्स, कंप्यूटर एवं कंप्यूटर के सामान, पेंट, हार्डवेयर, खाद्यान की वस्तुएं, मिठाई एवं नमकीन, केक चॉकलेट, किचन का सामानों की हुई है।
चार साल का सूखा खत्म
कैट के अनुसार, पिछले चार वर्षों से दिवाली पर व्यापारी मंडी का माहौल झेल रहे थे लेकिन इस बार देशभर में व्यापारियों ने अच्छा कारोबार किया। उम्मीद है कि नवरात्रि से शुरू हुआ त्योहारी सीजन जो अगले वर्ष मार्च तक रहेगा और उसके आगे भी व्यापारियों को बेहतर कारोबार की उम्मीद बंधी है।
ई-कॉमर्स से नुकसान
कैट महामंत्री ने फिर दोहराया कि ई-कॉमर्स व्यापार देश में बिना किसी सरकारी लगाम के चल रहा है जिसके कारण व्यापारियों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इन कंपनियों के मनमाने रवैये के कारण व्यापारियों को मनमाफिक मुनाफा नहीं हो सका और उन्हें हर बार नुकसान उठाना पड़ रहा है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें