नई दिल्ली। जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) को जानकारी दी है कि वो एयरलाइन्स में 700 करोड़ रुपये का निवेश करने को तैयार हैं। हालांकि इसके लिए उन्होंने यह शर्त रखी है कि उनका स्टेक 25 फीसद से नीचे नहीं होना चाहिए।गोयल ने जेट में निवेश करने पेशकश वैसे समय में की है जब एतिहाद ने संकट से जूझ रही कंपनी में निवेश करने के लिए कड़ी शर्तें रखी थीं, जिसमें गोयल की नियंत्रण हिस्सेदारी को भी कम किया जाना शामिल था। एसबीआई चेयरमैन रजनीश कुमार को लिखे अपने पत्र में गोयल ने कहा वह चर्चा के तहत संकल्प योजना और "महत्वपूर्ण नकदी संकट और आसन्न ग्राउंडिंग के बावजूद, जिसका सामना एयरलाइन कर रही है" एतिहाद की स्थिति के संदर्भ में लिख रहे हैं।गोयल ने कहा कि वो कंपनी में 700 करोड़ रुपये तक का निवेश करने और अपने शेयर गिरवी रखने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि हालांकि इसकी एक शर्त होगी कि नकदी निवेश करने के बाद भी उनकी शेयर होल्डिंग कम कम 25 फीसद रहे। उन्होंने पत्र में लिखा, "क्या यह संभव नहीं होना चाहिए, तब मैं किसी भी तरह का निवेश करने या अपने शेयर गिरवी रखने की स्थिति में नहीं होऊंगा, जब तक कि सेबी मुझे छूट नहीं देती और मुझे अपनी कम हिस्सेदारी (अगर यह 25 फीसद से कम है तो) बढ़ाने की अनुमति नहीं देती है।"गौरतलब है कि बीएसई पर जेट एयरवेज के शेयर होल्डिंग पैटर्न के मुताबिक दिसंबर 2018 में खत्म हुई तिमाही तक गोयल के पास 5,79,33,665 शेयर है, जो कि कंपनी के करीब 51 फीसद स्टेक के बराबर है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें