कारोबार

कारोबार (344)

नई दिल्ली। अगर आप इस समय हवाई यात्रा पर जाने का प्लान बना रहे हैं तो टिकट बुकिंग के लिए ये समय फायदेमंद साबित हो सकता है। कॉम्पिटीशन के इस दौर में जानी-मानी एयरलाइन कंपनी विस्तारा हवाई यात्रा की टिकटों पर डिस्काउंट दे रही है।विस्तारा एयरलाइन कंपनी इस समय खास डिस्काउंट ऑफर लेकर आई है। अपने दोस्तों और परिवार के साथ यात्रा करना हमेशा मजेदार होता है। अब विस्तारा उस यात्रा को फ्रेंड्स एंड फैमिली डिस्काउंट के साथ और भी फायदेमंद बना रहा है। इस ऑफर के तहत ग्राहक बेस फेयर पर 10 फीसद तक की छूट का आनंद ले सकते हैं।विस्तारा के ट्वीट के अनुसार, विस्तारा की ऑफिशियल वेबसाइट और मोबाइल एप के माध्यम से टिकट बुक करने पर 10 फीसद तक का अतिरिक्त डिस्काउंट दिया जा रहा है। इस डिस्काउंट का लाभ उठाने के लिए कम से कम 4 पैसेंजर टिकट एक साथ बुक करनी होंगी। इस ऑफर में इकोनॉमी क्लास के अंदर ही टिक बुक की जा सकती है।विस्तारा का डिस्काउंट ऑफर डायरेक्ट फ्लाइट्स के लिए है और इससे सिर्फ घरेलू उड़ानों पर लागू किया गया है। इस ऑफर में सिर्फ वन-वे यात्रा की जा सकती है। टिकट बुक करने के लिए ग्राहकों को सिर्फ विस्तारा की ऑफिशियल वेबसाइट या उसकी एप को इस्तेमाल करने की आवश्यकता है।इस ऑफर के तहत की गई बुकिंग में किसी तरह का बदलाव या रद्दीकरण सिर्फ कस्टमर केयर के जरिए किया जा सकता है। फ्लाइट शेड्यूल और टाइमिंग नियामक के अधीन हैं और बिना अग्रिम सूचना के संशोधित किया जा सकता है.

नई दिल्ली। दुनिया की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी सऊदी अरामको रिलायंस इंडस्ट्रीज के रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल कारोबार में 25 फीसद हिस्सेदारी खरीदने के लिए गंभीरता से बात कर रही है। समाचार एजेंसी थॉमसन रॉयटर्स ने एक अंग्रेजी अखबार के हवाले से यह रिपोर्ट प्रकाशित की है।कंपनी की इस अल्पसंख्यक हिस्सेदारी की राशि के 10 बिलियन डॉलर से 15 बिलियन डॉलर के बीच होने की संभावना है। इस रिपोर्ट में कहा गया कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के रिफाइनरी और पैटकैम कारोबार का वैल्युएशन 55 से 60 अरब डॉलर का है। रिपोर्ट के मुताबिक इस सौदे को लेकर दोनों कंपनियों के बीच जून में समझौता पत्र पर हस्ताक्षर हो सकते हैं।दुनिया के सबसे बड़े रिफाइनिंग कॉम्प्लेक्स के संचालक के रुप में अरामको की दिलचस्पी फरवरी में सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की दिल्ली यात्रा के बाद जागी है। तब उन्होंने कहा था कि उन्हें अगले दो वर्षों में भारत में 100 बिलियन डॉलर से अधिक के निवेश अवसरों की उम्मीद है।इसके अलावा, सऊदी अरामको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमीन नासर ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी से मुलाकात की थी, जिसमें उन्होंने सऊदी के स्वामित्व वाली कंपनी के व्यापार पर चर्चा की थी जिसमें क्रूड, रसायन और गैर-धातु विज्ञान शामिल थे। हालांकि सऊदी अरामको और रिलायंस इंडस्ट्रीज ने इस सौदे पर अभी कोई भी बयान देने से इनकार किया है।

नई दिल्ली। नागर विमानन नियामक डीजीसीए ने एयरलाइन कंपनियों से कहा है कि वो 10 घरेलू मार्गों पर हवाई यात्रा के किराये को कम करके 'उचित स्तर' पर लाएं। दरअसल बीते एक महीने से जेट संकट और अन्य वजहों से इन रूट्स पर हवाई किराए में 30 फीसद तक का इजाफा देखने को मिला है। यह जानकारी एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी है।हवाई किराए में हुई बढ़ोतरी और जेट एयरवेज के तमाम विमानों के खड़े होने के बाद पैदा हुईं चिंताओं के बीच नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने मंगलवार को विभिन्न एयरलाइन कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने क्षमता समेत अन्य मुद्दों के समाधान के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में कहा कि डीजीसीए ने 40 अधिक उड़ानों वाले रूटों पर किराए की समीक्षा की है। नियामक ने टिकटों के मौजूदा दाम और 7-14 मार्च की अवधि के दौरान टिकटों के दामों की तुलना की।नियामक ने वर्तमान हवाई किराए और 7 मार्च से 14 मार्च की अवधि के दौरान (जब सामान्य सीजन होता है) के किराए के बीच तुलना की। खरोला ने बताया, "यह देखा गया कि कीमतों की तुलना करने पर पाया गया है कि 10 रूटों पर हवाई यात्रा किराये में 10 से 30 फीसद की वृद्धि हुई है। एयरलाइन कंपनियों को इन रूटों पर टिकटों की कीमतों को घटाकर 'उचित स्तर' पर लाने के लिए कहा गया है।"

नई दिल्ली। केंद्र सरकार सितंबर तक रेलवे के दो सार्वजनिक निर्गमों (आईपीओ) आईआरसीटीसी और आईआरएफसी के जरिए 1500 करोड़ रुपये की कमाई का लक्ष्य रख रही है। यह जानकारी एक अधिकारी ने दी है। ऐसे में आप भी इन कंपनियों का आईपीओ खरीदकर कमाई कर सकते हैं।अधिकारी ने बताया कि वित्त मंत्रालय ने इस साल की शुरुआत में भारतीय रेलवे वित्त निगम (IRFC) के IPO को लॉन्च करने की प्रक्रिया शुरू की थी, लेकिन उस वक्त कंपनी ने रेल मंत्रालय को बताया है कि सूचीबद्ध होने पर उनकी उधारी लागत बढ़ जाएगी। इस मामले पर अंतिम फैसला केंद्रीय कैबिनेट की ओर से लिया जाना है।अधिकारी ने बताया, "हम सितंबर तक इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (आईआरसीटीसी) और आईआरएफसी का आईपीओ लाने की दिशा में काम कर रहे हैं। चुनाव के बाद आईआरएफसी एक बार फिर से कैबिनेट के पास जाना पड़ सकता है।" आईआरएफसी पूंजी बाजारों से और भारतीय रेलवे की विस्तार योजनाओं के वित्तपोषण के लिए धन जुटाता है। वहीं आईआरसीटीसी भारतीय रेलवे की कैटरिंग एंड टूरिज्म एक्टिविटीज एक्टिविटीज का संचालन करती है।IRFC का आईपीओ 500 करोड़ रुपये, जबकि आईआरसीटीसी का आईपीओ सरकार के लिए 1000 करोड़ रुपये जुटा सकता है। अधिकारी ने बताया, "रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस का मसौदा जल्द ही आईआरसीटीसी और आईआरएफसी के लिए बाजार नियामक सेबी के पास दायर किया जाएगा। यह चुनाव खत्म हो जाने और नई सरकार बन जाने के बाद किया जाएगा।"इस महीने की शुरुआत में ही सरकार ने रेल विकास निगम लिमिटेड में 12.12 फीसद हिस्सेदारी की बिक्री कर 480 करोड़ रुपये जुटाए थे। गौरतलब है कि अप्रैल 2017 में, आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी ने पांच रेलवे कंपनियों को सूचीबद्ध किए जाने को मंजूरी दी थी। इनमें इरकॉन इंटरनेशनल, रीट्स, आरवीएनएल, आईआरएफसी और आईआरसीटीसी शामिल थे।

 

नई दिल्ली। इंडिगो, जेट एयरवेज और एयर इंडिया ये तीनों विमानन कंपनियां वर्तमान में किसी न किसी तरह के संकट के गुजर रही हैं। ऐसे दौर में जब विमानन कंपनियों को भिन्न -भिन्नह कारणों से अपने विमानों (बोइंग 737 मैक्स ) को परिचालन से बाहर करना पड़ रहा है और अंतरर्राष्ट्रीय उड़ानों को अस्थायी तौर पर रोकना पड़ रहा है, स्पाइसजेट फायदा उठाती नजर आ रही है। जेट एयरवेज ने अपनी अतरर्राष्ट्रीय उड़ानों को अस्थायी तौर पर रोक दिया है। वहीं, स्पाइसजेट ने मुंबई से कई अंतरर्राष्ट्रीय उड़ानों की घोषणा की है। जेट एयरवेज की अंतरर्राष्ट्रीय उड़ानें 18 अप्रैल तक निलंबित रहेंगी। वहीं आज जेट संकट पर उसका बोर्ड अहम बैठक करने वाला है।
मुंबई से अंतरर्राष्ट्रीय उड़ानें भरेगी स्पाइसजेट: बजट कैरियर स्पाइसजेट ने सोमवार को घोषणा की थी कि वो मई अंत तक अपनी नॉन-स्टॉप फ्लाइट्स से कई अंतरर्राष्ट्रीय गंतव्यों को जोड़ेगी। एयरलाइन के मुताबिक वह अपनी फ्लाइट्स को मुंबई से हॉन्ग-कॉन्ग, जेद्दाह, दुबई, कोलंबो, ढाका, रियाद, बैंकॉक और काठमांडू से जोड़ेगी।स्पाइसजेट ने हाल ही में अपनी नॉन स्टॉप फ्लाइट्स से मुंबई से दुबई को जोड़ा था। साथ ही रोजाना डायरेक्ट फ्लाइट्स से बैंकॉक से जोड़ा था। एयरलाइंस की ओर से जारी बयान में कहा गया कि वो मुंबई से दुबई के बीच अपने परिचालन को और बेहतर करना चाहती है।स्पाइसजेट भारत की पहली और इकलौती विमानन कंपनी होगी जो कि जो कि अपनी डेली डायरेक्ट फ्लाइट्स को मुंबई से कोलंबो, मुंबई से ढाका, मुंबई से रियाद, मुंबई से हॉन्गकॉन्ग और मुंबई से काठमांडू तक जोड़ेगी।
बेड़े में पांच और 90-सीटर बॉम्बार्डियर Q400s को जोड़ेगी स्पाइसजेट: बजट कैरियर स्पाइसजेट ने मंगलवार को जानकारी दी कि उसने अपने बेड़े में पांच और 90 सीटर बॉम्बार्डियर Q400 को जोड़कर क्षेत्रीय जेट बेड़े को 32 विमानों तक विस्तारित करने की योजना बनाई है। कंपनी ने बताया कि इस कदम का उद्देश्य घरेलू बाजारों में विशेष रूप से क्षेत्रीय मार्गों पर क्षमता को बढ़ाना है।
स्पाइसजेट के शेयर्स का हाल: मंगलवार के कारोबार में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) पर स्पाइटजेट के शेयर 6.70 फीसद की तेजी के साथ 127.35 रुपये प्रति शेयर के स्तर पर कारोबार करते नजर आए।

नई दिल्ली। नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने जेट एयरवेज से संबंधित मुद्दों की समीक्षा के लिए बैठक बुलाई है, जिसमें बढ़ते किराये और उड़ानें रद्द होने की समस्याएं प्रमुखता से शामिल है। वहीं आज जेट बोर्ड की अहम बैठक से पहले कंपनी के शेयर्स में 3 फीसद तक की गिरावट देखने को मिली है।प्रभु ने नागरिक उड्डयन सचिव प्रदीप सिंह खरोला से कहा है कि यात्रियों के अधिकारों और सुरक्षा की रक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएं। जेट एयरवेज वर्तमान में गंभीर नकदी संकट से जूझ रही है और उसके 10 से भी कम विमान परिचालन में हैं। इसके अलावा उसे अंतरर्राष्ट्रीय उड़ानों को भी अस्थायी तौर पर कुछ समय के लिए बंद करने पर मजबूर होना पड़ा है।प्रभु ने एक ट्वीट में लिखा, "जेट एयरवेज से संबंधित मुद्दों की समीक्षा करने के लिए नागर विमान सचिव को निर्देश दिया गया है। इन मुद्दों में बढ़ता किराया और उड़ानों का रद्द होना शामिल है।" इसके अलावा सचिव से यह भी कहा दया है कि यात्रियों के अधिकारों और सुरक्षा के मुद्दे पर जरूरी कदम उठाए जाएं। प्रभु ने कहा है कि सभी हितधारकों के भले को ध्यान में रखकर काम किया जाए।मंगलवार के कारोबार में सुबह जेट एयरवेज के शेयर्स में 3 फीसद की गिरावट देखने को मिली। आज की बैठक में प्रबंधन एयरलाइन के लिए अगले कदम पर बोर्ड से मार्गदर्शन मांगेगा। आज सुबह 11 बजकर 25 मिनट पर जेट एयरवेज इंडिया लिमिटेड का शेयर 3.72 फीसद की गिरावट के साथ 252 रुपये प्रति शेयर पर ट्रेड कर रहा था।

 

नई दिल्ली। ग्रेच्युटी वह राशि है जो कर्मचारियों को 5 साल से अधिक समय तक किसी एक कंपनी में काम करने पर नियोक्ता द्वारा दी जाती है। पेमेंट ऑफ ग्रेच्युटी एक्ट 1972 के तहत कर्मचारियों को ग्रेच्युटी दी जाती है। आमतौर पर यह राशि रिटायरमेंट के बाद दी जाती है, लेकिन कुछ शर्तों के तहत इसका भुगतान पहले भी किया जा सकता है।किन कर्मचारियों को मिलती है ग्रेच्‍युटी और क्‍या…
नई दिल्ली। कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) सभी सैलरी पाने वाले कर्मचारियों के लिए ईपीएफओ की तरफ से चलाई जाने वाली रिटायरमेंट सेविंग स्कीम है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन बीस या उससे अधिक कर्मचारी वाले संस्थानों के कर्मचारियों को पीएफ में निवेश की अनुमित देता है।ईपीएफ स्कीम के तहत एक कर्मचारी को अपनी बेसिक सैलरी का 12 फीसद इसमें योगदान करना होता है, इसी के साथ नियोक्ता की तरफ से भी…
नई दिल्ली। अगर आप प्राइवेट सेक्टर में काफी वर्षों से काम कर रहे हैं, तो जाहिर तौर पर आपके कई बैैंकों में अकाउंट होंगे। क्योंकि हर नौकरी के साथ ही इस बात की संभावना अधिक होती है कि आपका एक और अकाउंट खुल जाए। इस सूरत में पुरानी कंपनी की ओर से खुलवाया गया बैंक अकाउंट में इस्तेमाल में नहीं रह जाता है। इसे निष्क्रिय अकाउंट कहा जाता है।अगर किसी…
नई दिल्ली। सीमित सैलरी और महंगाई वाले दौर में आपको कभी भी पैसों की अचानक जरूरत पड़ सकती है। वहीं दूसरी तरफ पर्सनल लोन की भी एक सीमा होती है कि आप एक खास रकम से ज्‍यादा का कर्ज नहीं ले सकते। हो सकता है आपकी जरूरत इतनी बड़ी हो कि आप अपनी प्रॉपर्टी ही बेचने की योजना बना रहे हों। हालांकि, बड़ी रकम का कर्ज लेने के लिए आप…
Page 1 of 25

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें