नई दिल्ली। Ambedkar Jayanti 2019 भारत को संविधान देने वाले महान नेता और भारत रत्न डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर की आज जयंती है। डॉ. भीमराव रामजी अंबेडकर का नाम बाबासाहब आंबेडकर नाम से लोकप्रिय है। बाबासाहेब को भारत के संविधान के वास्तुकार के रूप में भी जाना जाता है। डॉक्टर आंबेडकर अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और समाजसुधारक थे। उन्होंने छुआ-छूत और जातिवाद को खत्म करने के लिए कई आंदोलन भी किए। बाबासाहेब ने अपना पूरा जीवन समाज के पिछड़े वर्ग के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया।बाबासाहब आंबेडकर की जयंती (Ambedkar Jayanti) के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, बसपा सुप्रीमो मायावती, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई लोगों ने श्रद्धांजलि दी।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी श्रद्धांजलि:-राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बाबा साहेब को नमन करते हुए लिखा कि वे राष्ट्र के प्रतीक-पुरुष व संविधान शिल्पी थे। वे जातिगत एवं अन्य पूवाग्रहों से मुक्त भारत के निर्माण के लिए आजीवन संघर्षरत रहे। वे एक ऐसा समाज चाहते थे जहाँ महिलाओं व कमजोर वर्गों को समान अधिकार प्राप्त हों।
पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि:-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाबासाहेब को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, 'संविधान निर्माता और सामाजिक न्याय के प्रणेता बाबासाहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर को उनकी जयंती पर सादर नमन। जय भीम!'
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दी श्रद्धांजलि:-भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बाबा साहेब की जयंती के मौके पर श्रद्धांजलि दी। अमित शाह ने लिखा, 'बाबासाहेब आम्बेडकर जी के विचार और उनका व्यक्तित्व हम सबके लिए एक प्रेरणास्त्रोत हैं। उन्होंने जीवन पर्यन्त सामाजिक अन्याय के खिलाफ संघर्ष किया और उनका यह संघर्ष सामाजिक समरसता के लिए था। बाबासाहेब ने एक सर्वसमावेशी संविधान दिया जिससे हर वर्ग का कल्याण सम्भव हो, उनको कोटि-कोटि नमन'।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने दी श्रद्धांजलि:-बसपा सुप्रीमो मायावती ने बाबासाहेब आंंबेडकर की जयंती पर श्रद्धांजलि दी। मायावती ने कहा, 'एक व्यक्ति-एक वोट और हर वोट का एक समान मूल्य का अमूल्य संवैधानिक अधिकार देकर बाबा साहेब ने सदियों से शोषित-पीडि़त दलितों, पिछड़ों व धार्मिक अल्पसंख्यकों आदि को अपना कल्याण स्वंय करने के लिए सत्ता की मास्टर चाबी प्राप्त करने का आह्वान किया, जिसे हमें पूरा करना है।'

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें