नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट के सबसे महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर में कुल 100 शतक लगाए थे, लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि वो इससे भी ज्यादा शतक लगा सकते थे। सचिन तेंदुलकर अपने क्रिकेट करियर के दौरान कुल 17 बार नाइनटीज पर आउट हुए यानी नर्वस नाइनटीज का शिकार हुए। अगर ऐसा नहीं होता को उनके इंटरनेशनल शतकों की संख्या 117 हो सकती थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। सचिन ने अपने क्रिकेट करियर में 200 टेस्ट मैच, 450 से ज्यादा वनडे और सिर्फ एक टी20 इंटरनेशनल मैच खेले थे और सभी प्रारूपों में वो कुल 17 बार नाइनटीज पर आउट हुए। वो नर्वस नाइनटीज का शिकार होेने वाले भारतीय खिलाड़ियों में पहले स्थान पर हैं। सचिन तेंदुलकर के बाद भारत की तरफ से सबसे ज्यादा बार नर्वस नाइनटीज का शिकार टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली हुए थे। गांगुली को बेहद आक्रामक ओपनर बल्लेबाज माना जाता था। टीम इंडिया में जबरदस्त बदलाव लाने वाले और विदेशी धरती पर भारतीय टीम को जीत का मंत्र देने वाले गांगुली भी अपने क्रिकेट करियर के दौरान 6 बार नवर्स नाइटीज का शिकार बने। वो इस मामले में दूसरे स्थान पर हैं यानी सचिन के बाद उनका स्थान दूसरा है। वहीं उनमें और सचिन में काफी फर्क भी है। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली नर्वस नाइटीज का शिकार होने के मामले में तीसरे स्थान पर हैं। विराट के भी इंटरनेशनल क्रिेकेट में अब तक कुल 70 शतक हो चुके हैं और अगर वो 5 बार नर्वस नाइनटीज के शिकार नहीं हुए होते तो उनके भी शतकों की संख्या ज्यादा होती। इस मामले में विराट कोहली और पूर्व तूफानी ओपनर बल्लेबाज संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर हैं। सहवाग भी अपने करियर के दौरान 5 बार नर्वस नाइटीज का शिकार हुए।
पांच भारतीय बल्लेबाज जो नाइनटीज पर सबसे ज्यादा बार आउट हुए
1. सचिन तेंदुलकर - 17
2. सौरव गांगुली - 6
3. विराट कोहली - 5
4. वीरेंद्र सहवाग - 5
5. गौतम गंभीर- 4

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें