नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मुकाबला ब्रिसबेन के गाबा में होना है, लेकिन मौजूदा हालातों को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि ये मुकाबला ब्रिसबेन में नहीं खेला जाएगा और हो सकता है कि इस मुकाबले को भी रद किया जाए। दरअसल, ऐसा इसलिए है, क्योंकि क्वींसलैंड सरकार ने कोरोना प्रोटोकॉल के सख्त नियमों में कोई ढील नहीं देने की बात दोहराई है।भारतीय खिलाड़ी और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सामने ये मांग रख दी है कि अगर ब्रिसबेन में भारतीय खिलाड़ियों को संख्त क्वारंटाइन में रखा गया तो फिर टीम वहां नहीं जाएगी। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच गाबा में होने वाले चौथे टेस्ट मैच के भाग्य पर अटकलें जारी हैं। इसी बीच क्वींसलैंड के स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को यह स्पष्ट किया कि दोनों टीमों द्वारा सख्त क्वारंटाइन नियमों का पालन किया जाएगादरअसल, सिडनी में COVID-19 मामलों में वृद्धि देखी गई है। इसी की वजह से सिडनी से ब्रिसबेन (क्वींसलैंड) की यात्रा करने वाले लोगों के लिए सीमा प्रतिबंध हैं। इसी को लेकर एएनआइ से बात करते हुए, क्वींसलैंड के स्वास्थ्य प्रवक्ता ने शुक्रवार को पुष्टि की कि टीमों को वास्तव में अपने होटल में सख्त क्वारंटाइन में रहने की आवश्यकता होगी। प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई दोनों दल के सदस्यों को केवल प्रशिक्षण या मैच खेलने के लिए अपने होटल छोड़ने की अनुमति होगी।"उन्होंने आगे कहा है, "क्वींसलैंड में पेशेवर खेल को सुरक्षित रूप से जारी रखने के लिए विभिन्न खेल कोड की व्यवस्था है। हमेशा की तरह हम COVID-19 के जोखिम की निगरानी करते रहेंगे और क्वींसलैंड के लोगों को सुरक्षित रखने के लिए कोई भी आवश्यक बदलाव करेंगे। मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के COVID-Safe और क्वारंटाइन मैनेजमेंट को क्वींसलैंड में 6 जनवरी 2021 को चौथे टेस्ट मैच के संचालन करने की योजना को मंजूरी दी थी।"वहीं, बोर्ड को लेकर किए गए सवाल में क्वींसलैंड के स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने कहा, "क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की योजनाओं की गहन समीक्षा की गई है और हमें बहुत विश्वास दिलाता है कि वे टेस्ट की सुविधा के लिए महत्वपूर्ण और क्वारंटाइन उपायों की आवश्यकता को समझते हैं और वे सभी क्वींसलैंडर के लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में उनकी प्रतिबद्धता को गंभीरता से ले रहे हैं।" भारत के स्टैंड-इन कप्तान अजिंक्य रहाणे ने सिडनी में चल रहे तीसरे टेस्ट मैच में जाने से साफ कर दिया था कि सिडनी में लोगों को घूमते हुए देखना थोड़ा चुनौतीपूर्ण है, जबकि खिलाड़ी संगरोध में हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें