नई दिल्ली:-। भारतीय टेस्ट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे का प्रदर्शन कभी अच्छा तो कभी खराब रहता है। पिछली ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज में विराट कोहली की गैरमौजूदगी में उन्होंने कप्तानी का जिम्मा संभालते हुए टीम को विजेता बनाया था। पूर्व भारतीय मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद का मानना है कि टीम मैनेजमेंट को इस खिलाड़ी के समर्थन करना चाहिए। जब भी टीम के लिए विराट रन बनाने से चूकते हैं तो रहाणे ही सराहा देते हैं।पूर्व चयनकर्ता ने कहा, "मुझे लगता है कि वह ऐसे अच्छे खिलाड़ी हैं जिनके साथ शुरुआत की जा सकती है। ये बात सच है कि वह काफी उतार चढ़ाव से होकर गुजरे हैं लेकिन जब कभी भी टीम मुश्किल में होती है, वह हमेशा ही सामने उभरकर आते हैं। उनके अंदर वो क्षमता है। उनका ग्राफ थोड़ा उपर नीचे जरूर रहा लेकिन मुझे नहीं लगता है कि टीम मैनेजमेंट कोई बड़ा बदलाव करने वाली है।"आगे उन्होंने कहा,"वो मजबूती से वापसी करेंगे। वह एक बहुत ही बेहतरीन टीम मैन हैं और उनको हर कोई पसंद करता है। जब कभी भी विराट ने बड़ी पारी नहीं खेली तो इस इंसान ने आगे बढ़कर सबकुछ संभाला। हमें इस बात को भी नहीं भूलना चाहिए कि कैसे उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में बतौर कप्तान जिम्मेदारी निभाई वो भी तब जबकि काफी सारे सीनियर खिलाड़ी वहां मौजूद नहीं थे।""वह एक स्थापित खिलाड़ी हैं और उनका विदेशी सरजमीं पर रिकॉर्ड बाकी भारतीय खिलाड़ियों की तुलना में काफी अच्छा है। घर पर भले ही वह थोड़ा बहुत संघर्ष करते हैं। हमे उनके उपर बिना मतलब के दबाब नहीं बनाना चाहिए। पुजारा के लिए भी वही बात है कि उनके उपर भी बिना मतलब के दबाव नहीं बनाना चाहिए। क्योंकि रहाणे या फिर पुजारा जैसे खिलाड़ी सच्चे सिपाही हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट की कई सालों से इस लंबे फॉर्मेट में सेवा की है। हमें इन सभी खिलाड़ियों का समर्थन करना चाहिए।""ऐसी प्रतिभा को कभी भी किनारा नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि ये सभी साबित मैच विनर और एक संपूर्ण खिलाड़ी हैं। रहाणे इस टीम में सबसे ज्यादा अहम खिलाड़ी हैं। वह टीम के लिए बल्लेबाजी करने के लिए किसी भी जगह जा सकते हैं।"  

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें

data-ad-type="text_image" data-color-border="FFFFFF" data-color-bg="FFFFFF" data-color-link="0088CC" data-color-text="555555" data-color-url="AAAAAA">