नई दिल्ली। पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच दुबई में चल रहे पहले टेस्ट में लगभग दो साल बाद वापसी कर रहे पाक ओपनर मोहम्मद हफीज ने शतक बनाकर शानदार तरीके से अपना कमबैक किया। पाकिस्तान टीम में प्रोफेसर के नाम से मशहूर हफीज ने 12 चौकौ की मदद से अपना 10वां टेस्ट शतक ठोका। हफीज ने शुरू से ही ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों पर दबाव बनाना शुरू कर दिया।तेज गेंदबाज हो या स्पिनर्स उन्होंने हर किसी को बड़े संयम और आत्मविश्वास के साथ खेला। इस दौरान उन्होंने दूसरे ओपनर इमाम उल हक के साथ पाकिस्तान टीम को शानदार शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए करीब 200 रन की साझेदारी की।हफीज ने अब तक अपने टेस्ट करियर में 51 टेस्ट में करीब 40 की औसत से 3553 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 10 शतक और 12 अर्धशतक निकले। वैसे गेंदबाजी के मामले में भी वह पाकिस्तान टीम के महत्वपूर्ण हथियार है, टेस्ट क्रिकेट में वह अब तक 52 विकेट ले चुके हैं, वनडे क्रिकेट में तो उनके नाम 136 विकेट दर्ज है।हाल ही में पाकिस्तान का स्पिन विभाग लगातार फेल रहा है, एशिया कप में भी पाकिस्तान के स्पिनर्स बुरी तरह फ्लॉप हुए थे। इसी के बाद से मोहम्मद हफीज को दोबारा टीम में शामिल करने की मांग लगातार उठने लगी थी। हफीज ने अपना आखिरी टेस्ट मैच साल 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था लेकिन उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। 6 पारियों में हफीज़ महज 102 रन ही बना पाए थे। इसी वजह से उन्हें ओवल में खेले गए आखिरी टेस्ट मैच से ड्रॉप भी कर दिया गया था।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें