चंडीगढ़/जींद - इनेलो में मचा घमासान आज अंतिम मोड़ पर पहुंच गया और दाेनों भाइयों अजय सिंह चौटाला और अभय सिंह चौटाला की राहें आज जुदा हो गईं। इस तरह हरियाणा का मुख्य विपक्षी दल इंडियन नेशनल लोकदल अब दो फाड़ हो गया है। इंडियन नेशनल लोकदल के सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला के दोनों पुत्र अब अलग-अलग पार्टी में रहेंगे। इंडियन नेशनल लोकदल पर हरियाणा के नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला का कब्जा रहेगा और ओम प्रकाश चौटाला के बड़े पुत्र अजय सिंह चौटाला 9 दिसंबर को नई पार्टी की घोषणा करेंगे। जींद में अजय चौटाला ने नई पार्टी बनाने की घोषणा करते हुए कहा, इनेलो और चश्‍मा छोटे भाई बिल्‍लू (अभय चौटाला) को गिफ्ट करता हूं।
अभय चौटाला खेमे की चंडीगढ़ हरियाणा पंचायत भवन में बैठक हुई तो अजय चौटाला गुट की बैठक जींद में हुई। अभय चौटाला के साथ 13 विधायक और प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्‍य व प्रदेशभर से पदाधिकारी उमड़े। दूसरी ओर, इनेलो के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष अनंतराम तंवर और राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता केसी बांगड़ भी अजय व दुष्‍यंत चौटाला के समर्थन में आ गए। जींद में अजय चौटाला की बैठक में इनेलो के कई प्रदेश प्रकोष्‍ठों के पदाधिकारी, पूर्व विधायक और जिला अध्‍यक्ष व पदाधिकारी आए। बैठक में नैना चौटला सहित तीन विधायक भी मौजूद हैं।
जींद में आयाेजित कार्यकारिणी की बैठक में अजय चौटाला ने अलग पार्टी चुनने का ऐलान करते हुए कहा कि अपने छोटे भाई बिल्लू (अभय चौटाला) को इनेलो और चश्मा गिफ्ट करता हूं। अजय ने घोषणा की कि अगले तीन हफ्तों में नई पार्टी का झंडा झंडा तैयार हो जाए। अजय चौटाला 9 दिसंबर को जींद में रैली करेंगे। नई पार्टी के लिए कानूनी कार्रवाई करेंगे।
अजय ने कार्यकारिणी की बैठक में कहा, हमारे सामने तीन विकल्प है। उन्‍होंने कहा पहला विकल्‍प है इनेलो और चश्मे पर दावा करें तो बैठक में उपस्थित नेताओं ने इसका विरोध किया। दूसरा विकल्‍प- किसी राष्ट्रीय पार्टी के साथ गठबंधन करें तो इसका भी विरोध हुआ। अजय चौटाला ने नई पार्टी का गठन करने का विकल्‍प दिया तो सभी ने हाथ उठा कर समर्थन किया।
अजय खेमा ने जींद के देवीलाल मैदान में कार्यकर्ता सम्‍मेलन भी किया। अजय सिंह चाैटाला द्वारा बुलाई गई क‍ार्यकारिणी की बैठक में काफी संख्‍या में इनेलो के पदाधिकारी भी आए। इनमें कई प्रदेश पदाधिकारी व जिला अध्‍यक्ष शामिल रहे। इस बैठक में पदाधिकारियों के इनेलो से सामूहिक तौर पर इस्‍तीफे लिए गए। इस बैठक में नैना चौटाला सहित तीन विधायक मौजूद थे।
कार्यकारिणी की बैठक के बाद जींद के देवीलाल मैदान में कार्यकर्ता सम्‍मेलन हुआ। अजय चौटाला ने इसमें कार्यकारिणी की बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी दी। उन्‍होंने कहा, इनेलो आैर इसका निशान चश्‍मा अपने अजीज छोटे भाई बिल्‍लू को गिफ्ट करता हूं। हम 9 दिसंबर को नई पार्टी का ऐलान करेंगे। इसके लिए कानूनी कार्यवाही पूरी करने के बाद जींद में ही रैली कर नई पार्टी के नाम और झंडे की घोषणा की।
अजय चौटाला ने पिता की उक्तियों की चर्चा करते हुए कहा, याचना नहीं अब रण होगा। उन्‍होंने अभय चौटाला पर हमला करते हुए‍ फिर उन्‍हें दुर्योधन कह कर संबोधित किया। उन्‍होंने महाभारत की चर्चा करते हुए अभय चौटाला पर निशाना साधते हुए कहा, आेमप्रकाश चौटाला महाभारत की कहानी सुनाते हुए दुर्योधन को अन्‍याय और हिंसा का प्रतीक बताते थे। यह दुर्योधन हिंसा का उत्‍तरदायी है और यह धराशाई भी होगा।
उन्‍होंने कहा, भारी संख्‍या में इनेलो के वरिष्‍ठ नेताओं, पदाधि‍कारियाें और कार्यकर्ताओं ने इस्‍तीफे सौंपे हैं। 20 नवंबर को जेल वापस जाऊंगा तो ये इस्‍तीफे आेम प्रकाश चौटाला साह‍ब को सौंप दूंगा। उनको बताऊंगा कि यह असली इनेलो है। सम्‍मेलन में उन्‍होंने कई नेताओं के बनने वाले नए दल के साथ जुड़ने का ऐलान भी किया।
दुष्यंत ने कहा, हम जोड़ते रहे और वह तोड़ते रहे। हम मिलते रहे फिर भी वे धमकाते रहे। अब वक्त आ गया है करारा जवाब दिया जाए और कार्यकर्ताओं के अपमान का बदला लिया जाए। उधर दिल्ली इनेलो प्रदेश की पूरी इकाई ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है और डॉ. अजय सिंह चौटाला का समर्थन किया है। इनेलो के प्रवक्‍ता दिनेश डागर ने की इनेलो छोड़ने की घोषणा की है। इनेलो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर ने जींद में विधायकों व सांसद छोड़कर पार्टी से सामूहिक त्यागपत्र देने की घोषणा की। उन्‍हाेंने कहा कि इनेलो की प्रदेश की कार्यकारिणी के कई सदस्‍यों ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है और वे अजय व दुष्‍यंत के साथ हैं।
उधर अभय सिंह चौटाला ने इनेलो राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी व प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक चंडीगढ़ के हरियाणा पंचायत भवन में बैठक की। इस बैठक में अभय चौटाला सहित 14 विधायक मौजूद थे। बैठक में इनेलो के प्रदेश प्रधान डॉ. अशोक अरोड़ा भी मौजूद थे। अभय चौटाला द्वारा आयोजित बैठक में इनेलो संसदीय मामलों की समिति के 19 सदस्‍य मौजूद रहे। बैठक में 35 पूर्व सांसद और पूर्व विधायक मौजूद थे। बैठक में इनेलो के 18 जिला अध्‍यक्षों के मौजूद होने का दावा‍ किया गया है। बैठक में इनेलो के 80 हलका प्रधान भी मौजूद रहे।
बैठक में अभय सिंह चौटाला के साथ रामपाल माजरा, गोपी सिंह गहलोत, सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, राज्यसभा सदस्य रामकुमार कश्यप, विधायक बलवान दौलतपुरिया, मक्खन सिंगला, रामचंद्र कंबोज, वेद नारंग, पृथ्वी नंबरदार, ओम प्रकाश बैरवा, केहर सिंह रावत, रविंद्र बलियाला, नसीम अहमद, प्रमेंद्र ढुल, जाकिर हुसैन ने की भागीदारी की।
बैठक में हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला ने कहा, मुझे किसी तलवार उठाने की जरूरत नहीं है। मेरे भाई अजय सिंह चौटाला की शादी को 32 साल हो गए। कि अगर मैं गुंडा था तो इन 32 सालों में मेरी भाभी नैना चौटाला ने विरोध क्यों नहीं किया। उन्होंने कहा, मेरा और अजय चौटाला के घर अलग-अलग हैं। मेरे घर में सिर्फ चाय बनती है लंच और डिनर अजय चौटाला के घर से ही बनवाऊंगा। खाना बड़े भाई के घर का बना ही खाऊंगा।
बैठक में कई दिव्यांग कार्यकर्ता भी पहुंचे। बैठक में पहुंचे कार्यकर्ताओं में जोश दिखा। इस मौके पर ताऊ देवीलाल के ड्राइवर रहे रणधीर ने अभय चौटाला का समर्थन करने का ऐलान किया। रणधीर ने अभय चौटाला को बताया ताऊ देवीलाल जैसा निस्वार्थ बताया। अभय चौटाला के बेटे अर्जुन चौटाला भी पहुंचे।
जींद में अजय सिंह चौटाला द्वारा बुलाई प्रदेश कार्यकारिणी की अध्यक्षता इनेलो के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंत राम तंवर कर रहे हैं। इसमें अजय चौटला, नैना चौटाला, दुष्यंत चौटाला, दिग्विजय चौटाला, विधायक अनूप धानक और राजदीप फोगाट मौजूद हैं। इनेलो के एससी सेल के प्रदेश प्रधान अशोक शेरवाल भी बैठक में मौजूद हैं।
अजय खेमा ने दावा किया है कि बैठक में इनेलो की महेंद्रगढ़ जिला कार्यकारिणी के 95 प्रतिशत पदाधिकारी व सदस्‍य व पद‍ाधिकारी मौजूद हैं। इनमें इनेलो के प्रधान सतबीर यादव भी शामिल हैं। दादरी के जिला प्रधान नरेश द्वारका भी बैठक मौजूद हैं। जींद के जिला प्रधान कृष्ण राठी और जिला कार्यकारिणी के 95 प्रतिशत सदस्‍य व पदाधिकारी मौजूद हैं।
अजय चौटाला की बैठक में इनेलो के बीसी सेल के प्रदेश प्रधान तेलूराम जोगी, महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष शीला भयान भी मौजूद हैं। इसमें पूर्व विधायक निशान सिंह व पूर्व विधायक नरेंद्र सांगवान मौजूद हैं। हिसार जिला प्रधान राजेंद्र लितानी भी बैठक में पहुंचे। सबसे खास बात है कि कांग्रेस नेता व विधानसभा के पूर्व स्पीकर सतबीर कादियान भी जींद शहर में मौजूद हैं।
दाेनों भाइयों के अलगाव के बाद यह साफ हो गया कि राज्‍य में अब इनेलो के कैडर पर कब्‍जे की होड़ मचेगी। अभय चौटाला के साथ खुद के अलावा 13 विधायक हैं और अजय चौटाला के खेमे में उनकी पत्‍नी नैना चौटाला सहित तीन विधायक हैं। इंडियन नेशनल लोकदल की चंडीगढ़ में हो रही प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में अभय सिंह चौटाला के साथ 13 विधायक शामिल हुए। चार विधायक इस बैठक में नहीं आए। फरीदाबाद एनआइटी के विधायक नगेंद्र भड़ाना भाजपा के साथ हैं। नैना चौटाला के साथ-साथ अनूप धानक और राजदीप फोगाट खुलकर अजय सिंह चौटाला गुट के साथ हो गए हैं।
जींद में हाे रहे अजय चौटाला समर्थकों की बैठक स्‍थल और सम्‍मेलन के मंच पर न तो इनेलो लिखा है और न ही चश्‍मे का निशान बना है। इससे अजय चौटाला द्वारा इनेलाे से अलग राह पकड़ने और नई पार्टी बनाने का संकेत मिला है। अजय चौटाला द्वारा बुलाई गई कार्यकारिणी की बैठक में माैजूद पदाधिकारियों से इनेलो से इस्‍तीफा दिलाए जा रहे हैं। इसके लिए एक फार्मेट तैयार किया गया है।
बता दें कि इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला छोटे बेटे अभय सिंह चौटाला को अपना आशीर्वाद दे चुके हैं, वहीं बड़े बेटे अजय चौटाला इसके खिलाफ खुले मैदान में आ गए हैं। अपने बेटों दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला के लिए राजनीतिक जमीन तैयार कर रहे अजय कई दिनों से इनेलो से निष्कासन के बाद जनता की अदालत में जाने का एेलान कर रहे थे। दूसरी ओर अभय संगठन को नए सिरे से खड़ा कर पार्टी पर अपनी मजबूत करने की तैयारियों में जुट गए हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें