दक्षिण चीन सागर में आमने-सामने चीन और US की नौसेना, अमेरिकी युद्धपोत पैरासेल द्वीप में घुसा

13 July 2021
Author 

बीजिंग। दक्षिणी चीन सागर में एक बार फ‍िर अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ गया है। चीन की सेना ने कहा है कि सोमवार को एक अमेरिकी युद्धपोत पैरासेल द्वीप समूह के पास अवैध रूप से चीनी जल क्षेत्र में घुस आया था। हालांकि, चीन की नौसेना ने दूर खदेड़ दिया। बता दें कि यह घटना अंतरराष्ट्रीय अदालत की एक फैसले की बरसी के दिन सामने आई है। इसमें कहा गया था कि बीजिंग का दक्षिण चीन सागर में कोई दावा नहीं बनता है।

यूएसएस बेनफोल्ड ने चीन की अनुमति नहीं ली

चीन की नौसेना ने कहा कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के दक्षिणी थिएटर कमांड ने कहा कि यूएसएस बेनफोल्ड ने चीन की अनुमति के बिना उसके जल क्षेत्र में प्रवेश किया है। अमेर‍िकी नौसेना का यह कदम चीनी संप्रभुता का उल्लंघन है। चीन ने कहा कि अमेरिका के इस कदम का असर दक्षिण चीन सागर की स्थिरता पर पड़ेगा। पीएलए ने कहा कि हम अमेरिका से इस तरह की भड़काऊ कार्रवाई को तुरंत रोकने का आग्रह करते हैं। बता दें कि हेग में स्थाई पंचाट न्यायालय ने 12 जुलाई, 2016 को फैसला सुनाया था कि दक्षिणी चीन सागर पर चीन का कोई ऐतिहासिक दावा नहीं है, जबकि चीन ने अंतरराष्ट्रीय अदालत के इस फैसले की अनदेखी का निर्णय लिया था।

पैरासेल द्वीपों पर चीन का दावा अंतरराष्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन

92 VIEWS
Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें

data-ad-type="text_image" data-color-border="FFFFFF" data-color-bg="FFFFFF" data-color-link="0088CC" data-color-text="555555" data-color-url="AAAAAA">