पेरिस। पेरिस में म्‍यूटेंट कोरोना वायरस वरिएंट के 19 नए मरीज सामने आने के बाद फ्रांस सरकार की बेचैनी बढ़ गई है। फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने कहा कि फ्रांस ब्रिटेन के साथ लगने वाली अपनी सीमा पर अगली सूचना तक प्रतिबंध जारी रखेगा। यह निर्णय फ्रांस में ब्रिटेन के म्यूटेंट कोरोना वायरस वेरिएंट के 19 नए मामले मिलने के बाद लिया गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम फ्रांस में इन वैरिएंट्स के प्रसार से हर कीमत पर बचना चाहते हैं। हम इन दोनों वेरिएंट्स के खतरे को बहुत गंभीरता से लेते हैं और हम सभी आवश्यक उपाय करेंगे।कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन के चलते दुनिया भर में दहशत है। अधिकतर मुल्‍कों ने ब्रिटेन से आने वाले विमानों पर रोक लगा दी है। फ्रांस ने घोषणा की है वह अगले आदेश तक ब्रिटेन से लगने वाली अपनी सीमाओं को नहीं खोलने वाला है। फ्रांस के प्रधानमंत्री कास्‍टेक्‍स ने कहा कि फ्रांस ब्रिटेन के साथ लगने वाली अपनी सीमा अगले सूचना तक प्रतिबंध जारी रेखेगा। कास्टेक्स ने कहा कि ब्रिटेन में नए स्ट्रेन के प्रसार होने पर फ्रांस ने 20 दिसंबर को ब्रिटेन से लगने वाली अपनी सीमा को बंद कर दिया था। अब इस नए प्रतिबंध को अगले आदेश तक बढ़ा दिया गया है। इस नए स्ट्रेन को लेकर बताया गया है कि यह पहले से अधिक संक्रामक हैलांक‍ि, कुछ श्रेणी के लोगों को ही फ्रांस में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। इस छूट में ट्रक ड्राइवर भी शामिल हैं। ड्राइवरों को भी तब ही सीमा पार करने की अनुमति दी जाएगी, जब वे तीन दिनों के भीतर किए गए पीसीआर टेस्ट के निगेटिव नतीजों वाली रिपोर्ट को दिखाएंगे। गुरुवार को फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि पेरिस के दक्षिणी उपनगर बागनेक्स और पश्चिमी फ्रांस के ब्रिटनी क्षेत्र के एक केयर होम में कोरोना के नए वेरिएंट के दो कलस्टरों का पता चला है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, हम स्पष्ट रूप से दूसरे समूहों की पहचान करने का प्रयास कर रहे हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

pr checker

ताज़ा ख़बरें